10वीं की परीक्षा 47वीं बार, उम्र 82, 10 वीं पास करने पर होगी शादी


जयपुर। राजस्थान के अलवर जिले के बहरोड तहसील के खोहरी गांव में ८२ वर्षीय शिवचरन १० वीं की परीक्षा ४७ वीं बार दे रहे हैं। जब तक वह १० वीं पास नहीं करेंगे वह शादी नहीं करेंगे। १० वीं पास करने के चक्कर में उनकी उम्र ८२ वर्ष हो चुकी है। इसके बाद भी उन्हें आशा है कि १० वीं पास करने के बाद उनकी शादी भी होगी और जीवन संगिनी भी मिलेगी। बहुत छोटी उम्र में शिवचरन की मां का स्वर्गवास हो गया था। रिश्तेदारों ने उसे पाला पोसा और बड़ा किया। खेती बाड़ी के सहारे उनका जीवन चलता रहा। शिवचरन के पास शादी के कई रिश्ते भी आये लड़की वालों ने शादी करने से पहले खुद के पैरों पर खड़ा होने के लिए शिवचरन के सामने १० वीं पास कर लेने की शर्त (कौल) इस बात पर शिवचरन ने किया जब तक वह १० वीं पास नहीं कर लेंगे तब तक शादी नहीं करेंगे। इस जिद के कारण वह जवानी से बुढ़ापे की दहलीज तक पहुंच गये है। इसके बाद भी उन्हें आशा है कि उनकी शादी होगी।