मोबाइल फोन में िंहदी और क्षेत्रीय भाषा होगी अनिवार्य


नई दिल्ली। टेलीकॉम विभाग अगले तीन-चार महीनों में नए नियम ला सकता है जिसके अनुसार मोबाइल फोन में िंहदी और कम से कम एक क्षेत्रीय भाषा को सपोर्ट अनिवार्य होगा।लोगों को स्थानीय भाषा में संपर्वâ करने और मोबाइल फोन पर ई-पेमैंट जैसी सरकारी सेवाओं तक उनकी पहुंच बढ़ाने को यह कदम उठाया जा रहा है। विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि तीन माह बाद नियम बन जाएगा जिसके तहत भारत में बिकने वाले मोबाइल फोन में अंग्रेजी व िंहदी के अलावा कम से कम एक क्षेत्रीय भाषा का विकल्प जरूरी होगा। अधिकारी ने कहा कि डिजिटल इंडिया की सफलता के लिए ब्राडबैंड को सिर्पâ अंग्रेजी भाषी मध्य और उच्च वर्ग तक सीमित नहीं रखा जा सकता है। इसे गांवों में भी पहुंच बनानी होगी।