मुम्बई में बनेगा झुग्गी संग्रहालय


मुम्बई। स्लमडॉग मिलेनियर के निर्माताओं ने मुम्बई में ‘स्लम म्यूजियम’ बनाने की पेशकश की है। अपनी तरह का पहला ‘स्लम म्यूजियम’ बनाने का विचार उनको इसलिए आया है क्योंकि मुंबई की आधी से ज्यादा आबादी स्लम में रहती है। धारावी एशिया का सबसे बड़ा स्लम है। यहां बनने वाले म्यूजियम में वह सभी चीजें रखी जाएंगी जो यहाँ बनती है। डैनी बॉयल की हिट फिल्म स्लम डॉग भी यहीं बनाई गई थी।
जॉर्ज रुबियो ने कहा कि यह पहला म्यूजियम होगा जो स्लम में बनाया जाएगा। फरवरी तक मोबाइल म्यूजियम डिसप्ले के लिए बना दिया जाएगा। इसमें मिट्टी से बने बर्तन, कपड़े सभी कुछ रखे जाएंगे। ऑर्गेनाइजर ने कहा कि वे लोगों के टैलेंट को बाहर निकालना चाहते हैं।
१० लाख से ज्यादा लोग धारावी में रहते हैं। इसी वजह से क्षेत्र में कुछ छोटी-मोटी पैâाqक्ट्रयां खुली हुई हैं जहां हर तरह का सामान बनाया जाता है। स्लमडॉग की सफलता के बाद यह जगह टूरिस्ट प्लेस बन गई है। जिसकी वजह से कई दुकाने खुली हैं। २०१० में ब्रिटेन के िंप्रस चाल्र्स ने धारावी का दौरा किया था। उन्होंने यहां की वेस्ट रिसाइकिल करने की आदत को सराहा था।