मछलियों का अस्पताल


कोलकाता। कोलकाता में मछलियों का अस्पताल बनने जा रहा है। इस तरह का यह अस्पताल देश का पहला अस्पताल होगा। यह न्यू गरिया इलाके में बनाया जा रहा है। जानकारी के अनुसार अब पशु-पक्षियों के इलाज के लिए ाqक्लनिक होते हैं लेकिन मछलियों के बीमार होने पर देश में कहीं भी अस्पताल की व्यवस्था नहीं है। इसे ध्यान में रखते हुए इंडियन काउंसिल फॉर एग्रीकल्चरल रिसर्च के सहयोग से पाqश्चम बंगाल प्राणी व मत्स्य विज्ञान विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों ने इस अस्पताल का निर्माण करने का पैâसला लिया। इसका नाम फिश डिजीज डायग्नोाqस्टक लैबोरेटरी एंड हााqस्पटल रखा जाएगा। यहां मछली का नमूना लाने से ही काम हो जाएगा। मछलियों के डॉक्टर रोग के लक्षण की जांच करके ही बता देंगे कि मछली को क्या बीमारी है और इलाज के लिए क्या करना होगा। सिर्पâ बीमार मछलियां ही नहीं, मरी हुई मछलियों को भी यहां लाया जा सकता है। इसके बाद विशेषज्ञ उसका पोस्टमार्टम कर पता लगाएंगे कि मछली किस बीमारी से मरी है। बीमारी के अनुसार उपयुक्त चिकित्सकीय परामर्श दिया जाएगा।