भारत में 68 फीसदी महिलाएं निरक्षर


लंदन। दुनियाभर में ७८.१ करोड़ वयस्क अशिक्षित है, भारत में अशिक्षित वयस्कों में ६८ फीसदी महिलाएं हैं। नौ अप्रैल को लांच की गई यूनेस्को ग्लोबल शिक्षा रिपोर्ट के अनुसार वयस्क निरक्षरता की दर से ५० फीसदी कम करने में भारत असफल रहा है २००० से अब तक केवल २६ फीसदी निरक्षरता कम हुई है। हालांकि यह अच्छी खबर भी है कि २०१५ में भारत प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा में लड़कों एवं लड़कियों के अनुपात का बराबर बनाने के मामले में दक्षिण एशिया का एकमात्र देश है। खराब खबर यह है कि जल्दी विवाह एवं किशोरावस्था में गर्भधारण की वजह से लड़कियां स्वूâल छोड़ देती हैं। ४१ देशों में २० से २४ वर्ष की आयु की ३० फीसदी महिलाओं की शादी १८ वर्ष की आयु में कर दी गई थी। भारत को २.४ करोड़ बालविवाह का निराशाजनक रिकार्ड है। विकासशील देशों में ज्यादा से ज्यादा ३.६४ करोड़ २० से २४ वर्ष की आयु की महिलाएं १८ वर्ष की आयु से पहले बच्चों को जन्म दे चुकी थी।