बुलेट ट्रेन से तेज हाइपरलूप ट्रेन


लास वेगास। दुनिया की सबसे तेज ट्रेन हाइपरलूप वन का बुधवार को अमेरिका के नॉर्थ लास वेगास में पहला सफल परीक्षण हुआ। हाइपरलूप वन बुलेट ट्रेन की दोगुनी रफ्तार से दौड़ने वाली ट्रेन बनेगी। इसके साथ ही इसे दुनिया की सबसे तेज ट्रेन होने का गौरव हासिल होगा। अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, हाइपरलूप वन की प्रोटोटाइप का अमेरिका के नेवादा रेगिस्तान में सफल टेस्ट हुआ है। हाइपरलूप वन को पहले हाइपरलूप टेक्नोलॉजीज के नाम से जाना जाता था। मीडिया की मानें तो पहले टेस्ट में ही हाइपरलूप वन ने ३०० मील/घंटा की रफ्तार पकड़ी। मैग्नेटिक टेक्नोलॉली से लैस पॉड (ट्रैक) पर हाइपरलूप का दो मील के ट्रैक पर टेस्ट किया गया। वैâप्सूल जैसी हाइपरलूप ट्रेन रिसर्चर्स ने दावा किया है कि आने वाले सालों में वैक्यूम (बिना हवा) टयूब सिस्टम से गुजरने वाली वैâप्सूल जैसी हाइपरलूप ७५० मील यानी १२२४ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकेगी। इस ट्रेन को साउंड की स्पीड से १२३६ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार को छूने का लक्ष्य रखा गया है। बताया जा रहा है कि वर्ष २०१८ तक पहली हाइपरलूप ट्रेन पटरियों पर दौड़ाने की तैयारी है।