पर्दानशीन औरतों की हड्डियां कमजोर


– युवतियां भी हो रही है इस बीमारी की शिकार
भोपाल। गांधी मेडिकल कालेज भोपाल ने चेहरा और शरीर ढ़कने वाली महिलाओं के परीक्षण एवं शोध के बाद खुलाशा किया है जो महिलायें अधिकांश समय चेहरे अथवा शरीर को ढ़के रहती है। उन्हें सूर्य किरणें नहीं मिलती है। जिसके कारण उनकी हड्डियां कमजोर होने लगती है।
गांधी मेडीकल कालेज के अस्थि रोग विशेषज्ञ डा. दीपक मरावी के अनुसार ३० फीसदी महिलायें अपने चेहरे और शरीर ढ़कने तथा गलत जीवन शैली के कारण हड्डियां कमजोर होने की बात कही है।
६०० से अधिक महिलाओं के शोध में ३० फीसदी महिलायें बोन मिनरल डिसीज की शिकार पाई गई। इनमें अधिकांश महिलायें पर्दानशीन थी। कुछ महिलाओं को सेंटाक्रीम ज्यादा उपयोग करने, धूप की किरणें नहीं मिलने, जल्दी पीरिएड खत्म होने, शरीर में वैâल्सियम और प्रोटीन की कमी, बहुत ज्यादा साफ्ट ड्रिंक पीना, एक ही स्थान पर ज्यादा देर बैठने तथा ज्यादा दवाईयां खाने से उनकी हड्डिया कमजोर हुई है। विशेषज्ञ ने महिलाओं को सलाह दी है कि वह अपने शरीर को सूर्य किरणों के सम्पर्वâ में रहने दें। अनावश्यक पर्दे से परहेज करें।