नौकरी : राजस्थान युवाओं की पसंद


जयपुर। इंडिया ाqस्कल रिपोर्ट-२०१६ के अध्ययन रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि नौकरी के लिए देश भर के युवाओं की पसंद राजस्थान है। साथ ही राजस्थानी युवाओं को भी नियोक्ता नौकरी में तरजीह देते हैं। रिपोर्ट ने भारतीय उद्योग महासंघ, भारतीय विश्वविद्यालय संघ, पीपुलस्ट्रांग और िंलक्डइन के साथ मिलकर तैयार की है। रिपोर्ट तैयार करने में २९ राज्यों और ७ वेंâद्र शासित प्रदेशों के ३ हजार शिक्षण संस्थानों में सर्वे किया गया है। इसमें ५.२० लाख विद्यार्थी और १५० से अधिक नियोक्ता शामिल किए गए। नियोक्ता नौकरी देने के लिए जिन १० राज्यों के युवाओं पर सर्वाधिक भरोसा कर रहे हैं उनमें आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, प.बंगाल, महाराष्ट्र, राजस्थान, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश, झारखंड और हरियाणा शामिल हैं। १८ से २५ आयुवर्ग के पसंदीदा उम्मीदवारों की सूची में राजस्थान तीसरे नंबर पर है। उससे आगे उत्तर प्रदेश व आंध्र प्रदेश हैं तो बाद में दिल्ली, महाराष्ट्र, बंगाल, ओडिशा, बिहार, जम्मू-कश्मीर व झारखंड का नंबर है। २६ से २९ वर्ष आयुवर्ग के पसंदीदा उम्मीदवारों की कतार में राजस्थान से आगे सिर्पâ चंडीगढ़, झारखंड, दिल्ली, मध्य प्रदेश, प.बंगाल, उत्तराखंड, हरियाणा है। वहीं महाराष्ट्र व बिहार का नंबर राजस्थान के बाद है। नौकरी की चाह रखने वाले छत्तीसगढ़ के युवा दिल्ली, एनसीआर, बेंगलूरु, चेन्नई, लखनऊ के बाद जयपुर को पसंद करते हैं। खनन, गैस, तेल और ईस्पात जैसे कोर सेक्टरों में नौकरी खोजने वालों की पहली पसंद उत्तर प्रदेश है।
अंतर व्यक्तिक कुशलता में दिल्ली व उत्तर प्रदेश के युवा पहले व दूसरे स्थान पर हैं तो राजस्थान और गुजरात का नंबर क्रमश: चौथा व पांचवां है। अंग्रेजी भाषा की दक्षता में उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली का नाम शामिल है। वहीं सीखने की दक्षता झारखंड, गुजरात, राजस्थान, उत्तराखंड और चंडीगढ़ के युवाओं में पाई जा रही है। किसी आवेदक की नियुक्ति के लिए नियोक्ता २८ प्रतिशत विशेषज्ञता
२७ प्रतिशत मूल्य आधारित, परिणाम , १८ प्रतिशत अंतर व्यक्तिक कुशलता और सीखने की दक्षता ,९ प्रतिशत र्तािककता ,८ प्रतिशत सांस्कृतिक समावेश, ६ प्रतिशत संचार कौशल की अपेक्षा रखते हैं।
०दावों से भिन्न नौकरी की हकीकत
आरपीएससी से १९५० से २०१३ लगी नौकरी-२.१७ लाख , १९५० से २०१३ तक आवेदन-१.२७ करोड़, राजस्थान में निजी क्षेत्र में नौकरी सालाना- ५० से ८० हजार
प्रशिक्षित बेरोजगार, बीएडधारी-१५ लाख, प्रशिक्षित बेरोजगार बीटेक डिग्रीधारी- २.५ लाख, सर्वाधिक नौकरी आईटीआई प्रशिक्षित को, नौकरी में राज्य में सबसे अव्वल शहर-जयपुर , नौकरी में सबसे अव्वल क्षेत्र-सेवा क्षेत्र, पटवारी भर्ती में ४४०० पद और आवेदन आए ८.५ लाख से अधिक, तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती में १५ हजार पद जबकि १० लाख से अधिक आवेदकों ने इसके लिए आवेदन किये।