टोकियो में उल्लू कैफे


टोकियो । जापान में नग्न लड़कियों के कैफे तो पहले से ही विश्वप्रसिद्ध हैं किन्तु अब उल्लू कैफे  ने भी धूम मचा रखी है। दरअसल उलूक महाशय को जापान में लुभावना और लकी पक्षी माना जाता है, भारत के विपरीत जापान में उल्लुओं को शिन्तो समुदाय शगुन मानता है और इसका दिखना शुभ माना जाता है, उल्लुओं की यही दीवानगी अब उल्लू वैâपेâ के रूप में अवतरित हुई है। इससे पहले लंदन में बिल्ली वैâपेâ भी काफी लोकप्रिय हुए थे। अब उल्लू वैâपेâ में युवतियां उल्लुओं के साथ सेल्फी लेते देखीं जा सकती हैं। इसी थीम पर अब जापान में आउल वैâपेâ बनाया गया है। यहां हर जगह उल्लू नजर आते हैं। लोग यहां खाना खाने के अलावा इन पक्षियों के साथ समय भी बिताते हैं। मैन्यू बैकग्राउंड से लेकर इंटीरियर तक हर जगह उल्लू का इस्तेमाल किया गया है। यह थीम लोगों को काफी पसंद आ रही है। रेस्त्रां में पक्षियों की सुरक्षा का खास ख्याल रखा जाता है। उल्लू भीड़ से डर न जाएं इसलिए रेस्त्रां में एक साथ कम ही लोगों को प्रवेश दिया जाता है। इसके बाद भी लोग यहां अपनी बारी का इंतजार करते हुए कतारों में खड़े रहते हैं। यहां कुछ नियम हैं, जिनका पालन करना अनिवार्य है। जैसे वैâमरे का उपयोग करना व पक्षियों को तंग करना मना है। उल्लू बेहतर महसूस करें इसलिए इन्हें हर रोज आधे घंटे तक उड़ने दिया जाता है। इसके लिए यहां खास इंस्ट्रक्टर मौजूद रहते हैं।