गाड़ियों में टचस्क्रीन का इस्तेमाल खतरनाक!


मुंबई। वैज्ञानिकों ने अपने एक नए शोध में पाया है कि गाड़ियों में टचस्क्रीन का इस्तेमाल भारी पड़ सकता है। वैज्ञानिकों का दावा है कि गाड़ी चलाते समय ऐसा करने से दुर्घटना का खतरा बढ़ जाता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि टच स्क्रीन से लैस आई पैड, स्मार्टफोन जैसी मशीनों को इस्तेमाल करने से चालक की नजरें सड़क से हट जाती हैं। साथ ही इन स्क्रीन पर इतना सूक्ष्म लिखा होता है कि पढ़ने में अधिक वक्त लगता है। उनका कहना है कि ऐसी मशीनें चालकों द्वारा इस्तेमाल किए जाने के लिए नहीं तैयार की जाती हैं। इन्हें तैयार करने के दौरान गाड़ी चलाते वक्त इनका प्रयोग करने में होने वाली कठिनाइयों का ध्यान नहीं रखा जाता है। शोध में यह भी पाया गया है कि इन मशीनों का इस्तेमाल करते वक्त गाड़ी की रफ्तार को धीरे कर देना भी कोई खास रणनीति नहीं है।