ऐसे मनोविकार ग्रस्त पुरुषों में यौन अपराध की प्रवृत्ति होती है अधिक


न्यूयार्वâ। एक नए शोध में सामने आया है कि जो पुरुष आत्मवेंâद्रित मानसिकता से ग्रस्त होते हैं, उनमें जघन्य यौन अपराध को अंजाम देने की प्रवृत्ति अधिक होती है। अमेरिका की यूनिर्विसटी ऑफ र्जािजया से इस अध्ययन की मुख्य लेखक एमिली म्यूलसो का कहना है कि, “जो लोग अपनी मनोविकार संबंधी आत्मवेंâद्रित विशेषताओं का प्रदर्शन करते हैं, ऐसे पुरुषों को अन्य लोगों के साथ जुड़ने में खासा परेशानियों का सामना करना पड़ता है।” शोध में पता चला है कि ऐसे पुरुष अपने शिकार को पकड़ने के लिए शराब और अन्य डेट रेप दवाओं का इस्तेमाल करते हैं। डेट रेप दवाएं अस्थाई रूप से पीडित के साथ घटित घटनाओं की स्मृतियां क्षीण कर देती हैं। इस शोध के लिए २३४ छात्रों पर सर्वेक्षण किया गया था। इनमें से अधिकतर छात्र कॉलेज में अपना पहला या दूसरा साल पूरा कर रहे थे। शोर्धािथयों को इस अध्ययन में मनोविकार आत्मवेंâद्रण और यौन उत्पीड़न अपराधों का मजबूत संबंध देखने को मिला।