अगले दो साल में हर गांव में होगा इंटरनेट


नई दिल्ली। केन्द्रीय सचिवों की समिति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पेश रिपोर्ट में जो खाका पेश किया है उसके अनुसार दिसम्बर २०१८ के अन्त तक देश की सभी ढाई लाख ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड से जोड़ने के अभियान को समयबद्ध तरीके से पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। यानी दिसम्बर २०१८ तक सभी ग्राम पंचायतें ब्रॉडबैंड कनोqक्टविटी से लैस होंगी। इसके अलावा दिसम्बर २०१६ तक करीब ५५ हजार ६६९ ऐसे गांवों तक मोबाइल कनोqक्टविटी पहुंचाने का लक्ष्य तय किया है जो गांव अब तक इसके दायरे से बाहर हैं। समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कुल ढाई लाख ग्राम पंचायतों में से नवम्बर २०१५ तक ३४,८८१ ग्राम पंचायतों में ऑाqप्टकल फाइबर पहुंचाया गया है जबकि ४,३०० ग्राम पंचायतों में ब्रॉडबैंड सुविधा सुलभ करा दी गई है। उल्लेखनीय है कि ब्रॉडबैंड कनोqक्टविटी के जरिए सरकार का ई गवर्नेस, ई-स्वास्थ्य, ई-शिक्षा, ई-बैिंकग गांव तक पहुंचाने का लक्ष्य है।