फ्यूचर कार जैसी लगती है टोयोटा की सी-एचआर एसयूवी


कॉम्पैक्ट एसयूवी की बढ़ती मांग को देखते हुए टोयोटा भी इस सेगमेंट में उतरने की तैयारी कर रही है। टोयोटा के कैंप से आने वाली इस छोटी एसयूवी को फिलहाल सी-एचआर (कूपे हाई राइडर) नाम दिया गया है। कंपनी ने पहली बार इसके इंटीरियर और दूसरी तकनीकी जानकारियां साझा की हैं।

सी-एचआर का कॉन्सेप्ट टोयोटा ने पेरिस मोटर शो-2014 और फ्रैंकफर्ट मोटर शो-2015 में पेश किया था। इसके प्रोडक्शन मॉडल को जिनेवा मोटर शो-2016 में पेश किया गया था।

केबिन

 कार बाहर से जितनी अलग और शानदार नज़र आती है, इसका केबिन भी उतना ही खास और अलग है। यह टोयोटा की अब तक आई सभी कारों से एकदम अलग है। इसे काफी खूबसूरती से डिजायन किया गया है।

सी-एचआर का सेंटर कंसोल, ड्राइवर को ध्यान में रखते हुए डिजायन किया गया है। डैशबोर्ड पर इलेक्ट्रिक ब्लू लाइन दी गई है, जो एक दरवाजे से दूसरे दरवाजे तक जाती है। डैशबोर्ड पर पियानो ब्लैक पैनल भी दिए गए हैं। केबिन में तीन कलर स्कीम मिलेंगी इनमें डार्क ग्रे, ब्लैक/ब्लू और ब्लैक/ब्राउन थीम शामिल है। सी-एचआर के डैशबोर्ड में नई कारों की तरह आठ इंच का इंफोटेंमेंट सिस्टम माउंटेड स्टाइल में दिया गया है। जिसे डैशबोर्ड से निकाल कर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह सिस्टम आठ चैनल वाले 576 वॉट के एंप्लीफायर और नौ जेबीएल स्पीकर्स से जुड़ा होगा।

टोयोटा सी-एचआर में तीन पेट्रोल इंजन आएंगे। इनमें 1.2 लीटर का टर्बोचार्ज्ड इंजन, 2.0 लीटर का इंजन और 1.8 लीटर का हाईब्रिड पावरट्रेन वाला इंजन आएगा। 1.8 लीटर का हाईब्रिड इंजन नई टोयोटा प्रियस से लिया जाएगा। नई प्रियस को भारत में भी लॉन्च किया जाना है। यह इंजन 122 पीएस की ताकत देगा और इसका मिला-जुला माइलेज़ 27 किलोमीटर प्रतिलीटर का होगा।

1.2 लीटर का टर्बोचार्ज्ड इंजन 115 पीएस की पावर और 185 एनएम का टॉर्क देगा। 2.0 लीटर का इंजन 150 पीएस की ताकत और 193 एनएम का टॉर्क देगा। 2.0 लीटर वाले इंजन में सीवीटी ऑटोमैटिक गियरबॉक्स स्टैंडर्ड आएगा। 1.2 लीटर वाले इंजन में 6-स्पीड मैनुअल और ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का विकल्प रहेगा।

स्रोत : कार देखो.कोम