ममता का गढ़ ढहना शुरु हो गया, TMC के कई विधायक और कार्यकर्ता हो सकते हैं BJP में शामिल


(Photo Credit : ndtv.com)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनावों के समय पश्चिम बंगाल में जो कहा, वह सच होने जा रहा है और बंगाल में ममता का गढ़ बिखरने लगा है। लोकसभा चुनाव में मिले झटके के बाद ममता बनर्जी को आज एख और बड़ा झटका लग सकता है। ममता की पार्टी से हाल ही में निलंबित हुए मुकुल रॉय के पुत्र और विधायक सुभ्रांशु रॉय भाजपा में शामिल हो सकते हैं। मात्र सुभ्रांशु ही भाजपा में शामिल नहीं हो रहे हैं, बल्कि कई विधायक और एक दर्जन से अधिक स्थानीय कार्यकर्ता भी हैं।

बंगाल में ममता बेनर्जी के वर्षों तक मेहनत करके बनाए गढ़ को PM नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव में हिला दिया और अब जो बचा है, आज ये भी टूटने वाला है। एक या दो नहीं, 10 से ज्यादा बंगाल के पार्षद दिल्ली में बीजेपी का हाथ पकड़ने वाले हैं। सुभ्राशु रॉय, मुकुल रॉय के पुत्र हैं। मुकुल रॉय 2018 में भाजपा में शामिल हो गए थे और अब उनके बेटे सुभ्राशु भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं।

बंगाल से दिल्ली तक फैली ख़बरों के अनुसार, आज TMC के दो से चार विधायक भाजपा में शामिल हो सकते हैं। इसके साथ एक दर्जन से अधिक काउंसलर भाजपा में शामिल हो सकते हैं और 200 से अधिक कार्यकर्ता भाजपा में शामिल हो सकते हैं, जो बंगाल में ममता की मजबूरियों और कमजोरियों को जानते हैं। ऐसे में अगर पीएम मोदी के 40 विधायक वाली बात सही साबित होती है, तो बंगाल में ममता की पहाड़ जैसी शाख, राख में मिला जाएगी।