वडोदरा गोलीबारी किस्से में PSI ने कहा शराब‌ियों ने उनकी पिस्तौल छीन ली थी


(Photo Credit : youtube.com)

वडोदरा के मकरपुरा पुलिस स्टेशन के पुलिस सब इंस्पेक्टर द्वारा एक युवक की गोली लग गई। इस मामले में इलाज ले रहे युवक द्वारा पुलिस पर हमला करने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में PSI द्वारा दी गई शिकायत के अनुसार, उन्होंने सड़क पर शराब पी रहे लोगों से पूछताछ करते समय उन पर हमला करके उनकी पिस्तौल छीनी और उन्हें मारने की कोशिश की शिकायत दी।

मकरपुरा थाने के प्रोबेशनरी सब-इंस्पेक्टर की पिस्तौल से चलाई गई चार गोलियों में से एक गोली तरसाली के सुमित प्रजापति को लगी। इस मामले में पुलिस के गलत इरादे होने का आरोप लगाया जा रहा है। लेकिन वडोदरा के एसएसजी अस्पताल में इलाज करा रहे पुलिस सब-इंस्पेक्टर शक्तिसिंह चुडासमा ने एक शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें उन्होने दावा किया है कि वह अपने थाना क्षेत्र से गुजर रहे थे जब उन्होंने रविपार्क के पास सड़क के पास में बैठे कुछ युवाओं को देखा।

युवाओं के बीच शराब की एक बोतल, सोडा और चवाणु था। इसलिए वे वहीं रुक गए और जो सार्वजनिक रूप से शराब का आनंद ले रहे थे उन लोगों से परमिट के लिए पूछा तो वे उकसा गये और पूछ रहे थे कि तुम हमसे परमिट के लिए पूछने वाले कोन हो, मैंने उन्हे एक पुलिस इंस्पैक्टर होने की पहचान दी, इसके बावजूद एक युवक ने खड़े होकर मेरा कॉलर पकड़ लिया और मेरा गला दबा कर मुझे मारना शुरु किया फिर बाकी युवाओं ने भी मुझे मारना शुरू कर दिया, वे मुझे मारते मारते बीच सड़क पर ले आए।

इस दौरान किसी ने मेरी कमर में बंधी सरकारी पिस्तौल खींच ली, पिस्तौल लोडड होने के कारण मैंने उसके हाथ से पिस्तौल वापस खींचने की कोशिश की लेकिन उन्होंने पिस्तौल नहीं छोड़ी। इस समय अचानक गोलीबारी हो गई, जिसमें एक युवक को गोली लगी और बाकी भाग खड़े हुए। मुझे पेट और सर पर लगने के कारण मैं यहां इलाज के लिए आया हूं।