जिल्ला अस्पताल के गलियारे में ही हो गई डिलिवरी, अस्पताल ने दी सफाई


(Photo Credit : ANI)

उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में एक गर्भवती महिला की डिलीवरी अस्पताल के गलियारे में हो गई। आरोप है कि महिला का अस्पताल में समय पर स्टाफ द्वारा इलाज शुरू नहीं किया गया, जिसके कारण यह घटना हुई। इस मामले की जानकारी अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारीयों तक पहुंची तो कर्मचारयों में हंगामा मच गया।

इस मामले में जिला अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि महिला का परिवार उसे लेकर देर से अस्पताल पहुंचा। वे लोग देर से आए, जिसके कारण बच्चा पैदा होने से पहले ही मर गया था। हम महिला को लेबर रूम में शिफ्ट करते उससे पहले ही उसकी डिलिवरी हो गई।

घटना के बारे में बताएं तो, शंकरपुर की स्थानीय निवासी सरिता त्रिपाठी गर्भवती थीं। प्रसव पीड़ा के कारण महिला को उसके परिवार द्वारा बुधवार को अस्पताल लाया गया। जिला अस्पताल में डॉक्टरों की अनुपस्थिति और कागजी कार्रवाई में अतिरिक्त समय लगने के कारण महिला का दर्द बढ़ गया। असहनीय दर्द से लाचार सरिता वहीं जमीन पर ही सो गई। डॉक्टरों के नहीं पहुंचने के कारण वहीं उनकी डिलिवरी हो गई। जन्म के कुछ समय बाद इलाज के अभाव में बच्चे की मौत हो गई।