सूरत अग्नी कांड के बाद 3 लोगों के खिलाफ किया अपराध दर्ज, क्लास संचालक को किया गिरफ्तार


(Photo Credit : Khabarchhe.com)

सूरत के सरथाणा जकतनाका के पास तक्षशिला आर्केड में लगी आग में 20 से अधिक बच्चों के मरने की सूचना है। इस घटना के बाद अब सूरत पुलिस जागी है। 19 बच्चों की मौत के बाद सूरत पुलिस को अपनी ड्यूटी का एहसास हुआ है। इस घटना के बाद सरथाणा पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज किया। जिसमें ट्यूशन क्लास मैनेजर भार्गव बुटाणी भी शामिल हैं, जो तक्षशिला के चौथी मंजिल पर नाटा क्लासेस के नाम से क्लासेस चलाते थे। पुलिस ने इन तीनों लोगों के खिलाफ सरथाणा पुलिस स्टेशन में धार 304, 308 और 114 के तहत अपराध दर्ज किया है।

इस मामले पर ट्यूशन क्लास के प्रबंधक भार्गव बुटाणी को हिरासत में ले लिया गया है। इसके अलावा तक्षशिला आर्केड के दूसरे तीसरी और चौथी मंजिल के मालिक जिग्नेश सवजी पाघडाल और हसमुख वेकरीया के खिलाफ भी अपराध दर्ज किया है। प्रारंभिक जांच में, पुलिस ने पाया कि इस परिसर में आग नियंत्रण की सुविधाओं का पूर्ण अभाव था। पुलिस जांच में यह भी पता चला है कि आग के समय बाहर निकलने के लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई थी, और चौथी मंजिल पर बने फाइबर शेड को भी अवैध रूप से नीचे खींच लिया गया था।

इस मामले के बाद शनिवार की सुबह, सूरत के पुलिस कमिश्नर सतीश कुमार शर्मा ने शहर में सभी ट्यूशन क्लास पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगाने की घोषणा की और यह भी आदेश दिया है कि जब तक फायर डिपार्टमेंट का एनओसी क्लासेस के दरवाजे पर नहीं लगाया जाता तब तक एक भी ट्यूशन क्लास नहीं खोली जाएगी।