श्रीलंका धमाकों में IS-कोयंबटूर के संबंध की तलाश में NIA ने छापे मार कर 4 संदिग्धों को पकड़ा


(Photo Credit : dailyexcelsior.com)

नेशनल इंवेस्टिगेटिव एजेंसी (NIA) ने ईस्टर के दिनों में श्रीलंका में हुए सीरियल ब्लास्ट के मामले में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) के कथित कोयम्बटूर मॉड्यूल कनेक्शन के लिए बड़ी कार्रवाई की है। एनआईए ने कोयम्बटूर में आईएस आतंकवादियों के स्थलों के रूप में पहचाने गए आठ स्थानों पर छापे मारे। इस छापों में एनआईए ने चार गिरफ्तारियां भी की हैं। एनआईए इसकी जांच करना चाहती है कि क्या भारतीय संदिग्धों और श्रीलंकाई आतंकवादियों या उनके संचालकों के बीच कोई संबंध है? गौरतलब है कि ईस्टर के दिन श्रीलंका में हुए सिलसिलेवार बम विस्फोट में कम से कम 250 लोगों की मौत हो गई थी।

यह कहा जाता है कि ISIS के एक मॉड्यूल के प्रमुख ने हसीम के फेसबुक अकाउंट से संपर्क किया था। दोनों के बीच अक्सर बातचीत होती थी। NIA ने इस IS मॉड्यूल की तलाश में छापे मारे थे।

एनआईए के महानिरीक्षक (आईजी) के नेतृत्व में, एनआईए की टीम पिछले महीने श्रीलंका के विस्फोटों में आईएस-कोयंबटूर के संबंध की जांच के लिए कोलंबो गई थी। अधिकारियों के अनुसार, श्रीलंका में विस्फोट के मामले में आईएस कोयंबटूर मॉड्यूल के खिलाफ एक अलग FIR दर्ज की गई है। एनआईए की टीम इस प्रवास में श्रीलंका में हुए विस्फोटों की जांच में मदद के लिए नहीं गई थी, लेकिन टीम कोलंबो गई ताकि कोई ऐसा सबूत मिल सके जिससे आईएस कोयम्बटूर संबंध साबित हो सके।

नाम न बताने की शर्त पर एक अधिकारी ने कहा, “इस्लामिक स्टेट कोयम्बटूर मॉड्यूल की जांच करते समय, हम श्रीलंकाई सीरियल ब्लास्ट के साजिशकर्ता जहरान हाशिम पर रुक गए। हमें पता चला कि उनके कई वीडियो लोगों को गुमराह करने के लिए इस्तेमाल किए गए थे। एक बड़ी साजिश की जांच करने के लिए, हम मॉड्यूल के मामूली सहयोगियों से पूछताछ करते हैं।