कनाडा के 6 सिख मोटरसाइकल चालकों का नाम लंदन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में हुआ शामिल


(Photo Credit : netdna.com)

केनेडा के सिख मोटरसाइकिल क्लब के छह सिख मोटरसाइकिल चालकों ने सफलतापूर्वक विश्व भ्रमण पूरा किया है। उन्होंने कनाडा से पंजाब तक की इस महत्वाकांक्षी यात्रा को पूरा किया, जिसके दौरान वे 22 देशों में घूमे।

सिख चालकों की इस उपलब्धी के कारण इस क्लब का नाम लंदन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में शामिल किया गया है। समूह के अनुसार, गुरु नानक देवजी की 550 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष में आयोजित इस यात्रा का संदेश पूरी मानव जाति को एक रूप में मान्यता देना है, जो गुरु साहिब का मुख्य उद्देश्य था।

इस यात्रा के लिए क्लब को कई कानूनी मंजूरी लेनी पड़ी थी। उन्होंने कनाडा और संयुक्त राज्य अमेरिका के रास्ते पार किये। फिर इंग्लैंड पहोंचे। यहाँ से, 40 दिनों से भी कम समय में, भारत में पंडाब तक पहुँचने का उद्देश्य सड़क मार्ग से पूरा हुआ।

3 अप्रैल को शुरू हुई यह यात्रा 11 मई को पंजाब में संपन्न हुई। तुर्की में प्रवेश करने से पहले यात्रा यूरोप के सभी देशों तथा शहरों में गई थी, फिर उसने ईरान में प्रवेश किया और पाकिस्तान में प्रवेश किया। पाकिस्तान में, गुरु नानक देव की जन्मस्थली नानक साहिब गए।

टीम वाघा सीमा पार करके भारत आई। यहीं पर स्वर्णमंदिर जा कर उन्होने अपनी यात्रा पूरी की। पंजाब सेगमेंट की शुरुआत अमृतसर से हो कर गोइंदवाल साहिब और खडूर साहिब हो कर सुल्तानपुर लोधी गए।