साध्वी प्रज्ञा बोलीं नाशूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे


(Photo Credit : liffyworld.com)

देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे को लेकर एक बार फिर राजनीति में गरमागरमी देखने को मिली। कमल हसन के नाथूराम गोडसे के बयान के बाद, अब मध्य प्रदेश की भोपाल सीट से भारतीय जनता पार्टी की ओर से लड़ रही साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि नाथूराम गोडसे एक देशभक्त थे।

मीडिया ने साध्वी प्रज्ञा से पूछा कि कमल हसन ने जो बयान दिया है, उसमें कहा गया है कि नाथूराम गोडसे पहला आतंकवादी था, आप क्या कहते हैं, आप पर भी पहले भगवान के नाम पर आतंकवाद के मुद्दे पर आरोप लगे हैं, दिग्विजय सिंह ने भी पहली बार इन शब्दों का इस्तेमाल किया था। नाथूराम गोडसे पर आप क्या कहते हैं? 

इसके जवाब में साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। वे लोग जो उन्हें आतंकवादी कहते हैं, वे लोग अपने गिरेबान में झांक कर देखें, उन्हें मौजूदा चुनावों में जवाब दे दिया जाएगा।

आजाद भारत के पहले आतंकवादी हिंदू थे, गोडसे उदाहरण: कमल हसन

कमल हासन, एक दक्षिण सुपरस्टार और हालिया नेता, ने एक सभा में कहा कि आज़ाद भारत के पहले आतंकवादी हिंदू थे, और वह नाथूराम गोडसे थे।

यह बात कमल हसन ने तमिलनाडु के अरव‌िकुरुकी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा, “यहां मुस्लिम मौजूद है, इसलिए मैं यह नहीं कह रहा हूं, लेकिन आजाद भारत में पहला आतंकवादी हिंदू ही था, जो कि नाथूराम गोडसे था। मक्कल निधि मीयामे के अध्यक्ष कमल हसन ने कहा कि यह तब शुरू हुआ जब नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की हत्या कर दी। कमल हसन अरव‌िकुरुकी में जनता के बीच में आकर उपचुनाव में प्रचार करने आए थे। जिस समय कमल हासन ने यह बात कही, उनके उम्मीदवार एस. मोहनराज भी उपस्थित थे।