RSS को आतंकवादी संगठन घोषित करने के पक्ष में नहीं ओबामा सरकार


नईदिल्ली । अमेरिकी सरकार इस पक्ष में नहीं है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को आतंकवादी संगठन घोषित किया जाए। ओबामा सरकार ने एक सिख्स फॉर जाqस्टस (एसएफजे) द्वारा अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी के खिलाफ दायर किए गए मुकदमे को खारिज करने का अनुरोध किया है। इस मामले में अमेरिकी अदालत ने शीर्ष अमेरिकी राजनयिक को तलब किया है। न्यूयॉर्वâ के साउदर्न डिाqस्ट्रक्ट के अटॉर्नी प्रीत भराड़ा ने न्यायाधीश लॉरा टेलर स्वेन से अनुरोध किया है कि सिख्स फॉर जाqस्टस की ओर से दायर शिकायत पर जवाब देने के लिए सरकार को और समय दिया जाए। सरकार को २४ मार्च तक जवाब देना था और भराड़ा ने आवेदन दाखिल करने के लिए १४ अप्रैल तक का समय मांगा है। भराड़ा ने कहा कि जवाब देने की जगह अमेरिकी सरकार शिकायत को खारिज कराने की दिशा में आगे बढ़ रही है।
गौरतलब है कि सिख्स फॉर जाqस्टस ने जनवरी में मुकदमा दायर किया। इसमें उसने यहां की अदालत से आरएसएस को विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित करने की मांग की है। मुकदमे में आरएसएस पर फासीवादी विचारधारा में विश्वास रखने और सांस्कृतिक पहचान के साथ भारत को एक िंहदू राष्ट्र में बदलने के लिए िंहसक अभियान चलाने का आरोप लगाया है। बता दें कि पिछले कुछ समय से भारत में गिरजाघरों पर कई हमले हुए। वहीं पाqश्चम बंगाल में एक नन के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला भी सामने आया।