कूड़े के ढेर में फैंक दी गई नवजात को मिला जीवनदान


(Photo Credit : twitter.com/vinodkapri)

आज बात करनी है राजस्थान के नागौर जिले के बरनेल में घटी उस घटना की, जो आपके दिल को झकझोर कर रख देगी।

बरनेल में सड़क के किनारे कचरे के ढेर में कोई निर्दयी अपनी नवजात बच्ची को फैंक कर चला गया। वहां से गुजर रहे किसी सज्जन ने उस बच्ची का वीडियो लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। वीडियो में नन्हीं जान की चीख सूनकर लाखों लोगों का दिल पसीज गया। लोग उन्हें कोस रहे थे जो इस लाड़ली को यूं कचरे के ढेर में फैंक कर चले गये।

ये है वो वीडियो।

लेकिन कहते हैं कि इंसानियत कभी मरती नहीं, वह अब भी जिंदा है। इस वीडियो पर देश के नामी पत्रकार विनोदी कापड़ी की नजर पड़ी और उनका दिल रो ऊठा। उन्होंने अपनी पत्नी जो स्वयं एक पत्रकार हैं, की रजामंदी से उस ‌कचरे के ढेर में फैंकी गई बीटिया को गोद लेने की इच्छा जाहिर कर दी।

विनोद ने ट्वीट करके लिखा, ‘ये चीख अब और सुनी नहीं जा सकती। कोई जानकारी हो तो बताइए। हम इस बच्ची को अपने जीवन का हिस्सा बनाना चाहेंगे।

(Photo Credit : twitter.com/vinodkapri)

पता चला कि घटना राजस्थान के नागौर की है। विनोद ने अपने एक पत्रकार मित्र को नागौर भेजा और बच्ची की देखभाल करने को कहा और स्वयं उससे संपर्क बनाये हुए हैं।

फिलहाल बच्ची नागौर के JLN Hospital में है और उसका स्वास्थ्य ठीक है। विनोद ने अस्पताल से बीटिया का लिया ये वीडियो पोस्ट किया।

https://twitter.com/vinodkapri/status/1139457083265257473

उन्होंने बच्ची को ‘पीहू’ नाम दिया और बताया कि CARA के मारफत उसे गोद लेने की प्रकिया शुरू कर दी गई है। प्रक्रिया लंबी और जटिल है।

हम दंपत्ति विनोद और साक्षी के इस जज्बे का सलाम करते हैं।