गिरफ्तारी से नहीं डरता, लेकिन उससे समस्या और बढ़ेगी : कमल हसन


(Photo Credit : news18.com)

तमिल फिल्मों के स्टार और राजनीतिज्ञ कमल हसन के नाथूराम गोड़से को आजाद भारत का पहला हिंदू आतंकवादी कहे जाने संबंधी बयान के बाद राजनीति गर्मा गई। कमल हसन हसन के बयान को लेकर काफी विवाद हुआ है। भोपाल से भाजपा उम्मीदवार ने इस बयान के जवाब में नाथूराम गोड़से को देशभक्त करार दिया। हालंकि उन्हें बाद में अपने बयान के लिये माफी मांगनी पड़ी।

अब कमल हसन ने अपनी बात पर कायम रहते हुए कहा कि वे गिरफ्तारी से नहीं डरते। प्रशासन चाहे तो उन्हें गिरफ्तार कर ले। लेकिन उन्होंने चेताया कि इससे समस्या और बढ़ेगी। यह चेतावनी नहीं बल्कि सलाह है।

बता दें कि त्रिची में चुनावी रैली के दौरान कमल हसन पर पत्थर फैंका गया था। इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कमल हसन ने कहा कि देश में राजनीति का स्तर काफी गिर गया है। यद्यपि वे डरते नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हर धर्म में उसके अपने आतंकी होते हैं। हम यह दावा नहीं कर सकते कि हम पवित्र हैं। इतिहास गवाह है कि सभी धर्मों में चरमपंथी रहे हैं।