NIA अफसर की बिजनौर में गोली मारकर हत्या


हमले में पत्नी भी गंभीर रूप से घायल
बिजनौर। उत्तरप्रदेश के बिजनौर जिले में दो बाइक सवार बदमाशों ने नेशनल इनवोqस्टगेशन एजेंसी (एनआईए) के डिप्टी एसपी तंजील अहमद उम्र ४५ वर्ष और उनकी पत्नी को गोली मार दी। डिप्टी एसपी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उनकी पत्नी गंभीर रूप से घायल हैं।
बताया जा रहा है कि एनआईए के डीएसपी तंजील अहमद बीती रात अपनी भांजी की शादी से घर लौटते वक्त रास्ते में एक पुलिस वैन को ओवरटेक करते हुए बाइक सवार बदमाशों ने डीएसपी की गाड़ी पर गोलियां बरसाई जिसमें डीएसपी ने अपना दम तोड़ दिया। जबकि उनकी पत्नी बुरी तरह से घायल हो गई हैं। पुलिस के मुताबिक तंजील अहमद की पत्नी को एक गोली लगी है। घटना के बाद डीएसपी तंजील के परिवारवालों के मुताबिक डीएसपी पर करीब २३ से २४ राउंड गोलियां चलाई गई। हमले में तंजील की पत्नी बुरी तरह से घायल हुई है जिनका इलाज दिल्ली के एम्स हॉाqस्पटल में चल रहा है। घटना स्थल पर मौजूद डीएसपी तंजील अहमद के दोनों बच्चे सुरक्षित हैं। मामले की खबर मिलते ही लखनऊ डीआईजी, एनआईए और एटीएस की टीम बिजनौर पहुंच गई हैं। अहमद पांच साल से एनआईए के लिए काम कर रहे थे, एटीएस और एनआईए की टीम मुरादाबाद के उस अस्पताल में पहुंच गई है, जहां अहमद का शव रखा गया है।
तंजील अहमद, एनआईए के ऑपरेशन की कोर टीम का हिस्सा थे. वो सभी बड़े आतंकवादी वारदातों की जाँच में शामिल रहे हैं जिसमे पठानकोट का हमला भी शामिल है। पाकिस्तान से आई जेआईटी की टीम के साथ बातचीत के दौरान पांच दिन तक कोर टीम के साथ मौजूद थे। तंजील अहमद के पास पठानकोट के अलावा भारत में आईएस आतंकी संगठन के मॉडयूल की जाँच, पाqश्चम बंगाल के बर्धमान में हुए आतंकी हमले की जाँच और आतंकियों के लिए जाली नोटों की जाँच से जुड़े थे।