NGT की फटकार, यमुना विषैली न हो : संसद में कार्यक्रम पर बवाल


नई दिल्ली। एनजीटी ने श्री श्री रविशंकर के कार्यक्रम को आयोजित करने वाले आयोजकों से कहा है कि यमुना में एंजाइम नहीं डाले जाएं। इस मामले में कहा गया था कि यमुना के पानी में एंजाइम के इस्तेमाल से आने वाली बदबू को रोका जा सकता है। वहीं इस मामले पर एनजीटी की सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार ने कहा कि हमने आयोजकों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन के लिए अलग से स्टेज बनाने को कहा है।

सुनवाई के दौरान जल संसाधन मंत्रालय ने बताया कि उसने मार्च 11 से 13 तक ‘World Cultural Festival’ की इजाजत नहीं दी है। वहीं पर्यावरण मंत्रालय को एनजीटी ने फटकार लगाई है क्योंकि ट्रिब्यूनल के निर्देश के बावजूद मंत्रालय ने कोई हलफनामा दाखिल नहीं किया। एनजीटी ने आयोजकों से कहा कि आप पूरे कार्यक्रम के दौरान यमुना नदी से पूरी दूरी बना कर रखे रहेंगे साथ ही एनजीटी के सभी निर्देशों का सही तौर पर पालन हो ये भी सुनिश्चित करेंगे।

कार्यक्रम को राजनीतिक न बनाएं

यमुना के बाढ़ के डूब वाले क्षेत्र में प्रस्तावित श्री श्री रविशंकर का तीन दिवसीय सांस्कृतिक कार्यक्रम विवादों में घिरने के बाद आज राज्यसभा में भी उठा। एनजीटी भी इस मामले पर सुनवाई कर रही है। इस बीच आध्यात्मिक गुरु ने अपील की है कि इसे राजनीतिक मुद्दा न बनाया जाए।

 संसद में बुधवार को श्रीश्री के यमुना पर हुए कार्यक्रम पर जमकर हंगामा हुआ। संसद से जुड़ी हर जानकारी…

*  सेना के इस्तेमाल पर रक्षामंत्री पर्रिकर देंगे संसद में जवाब।
* विवाद के बीच सेना ने कहा कि हमने मंत्रालय के आदेश का पालन किया। सेना ने कहा कि हमने ताजमहल के पीछे भी पुल बनाया था।
* जल संसाधन मंत्रालय ने राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एनजीटी) से आज कहा कि उसने श्री श्री रविशंकर की ओर से यहां यमुना नदी के किनारे आयोजित किए जा रहे संस्कृति महोत्सव के लिए कोई मंजूरी नहीं दी है।

* विपक्षी दल के नेताओं ने कार्यक्रम के लिए सेना के उपयोग पर सवाल उठाए।

* वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा, मामले की एनजीटी में सुनवाई चल रही है।
* कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि निजी कार्यक्रम के लिए सेना ने पुल क्यों बनाया?
* सेना श्री श्री के कार्यक्रम के लिए एक पुल का निर्माण कर चुकी है।
* अब सेना पीपी पुल के निर्माण में जुटी है।

* कई बॉलीवुड सितारों का भी कार्यक्रम होगा।

* सेना ने पुल क्यों बनाया?
* कांग्रेस ने किया कार्यक्रम का विरोध।
* संसद में श्रीश्री रविशंकर के कार्यक्रम पर जमकर हंगामा।