साध्वी प्रज्ञा के बयान पर भाजपा ने कहा हम इसका समर्थन नहीं करते, और इस विषय में…


(Photo Credit : thewire.in)

भारतीय जनता पार्टी की लोकसभा सीट के उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा के बयान ‘नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे’, के कारण वे विवाद में आ गई हैं। भारतीय जनता पार्टी ने साध्वी प्रज्ञा के बयान का समर्थन करने से इनकार कर दिया है। भारतीय जनता पार्टी के नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने बयान दिया, भाजपा नाथूराम गोडसे पर साध्वी प्रज्ञा के बयान का समर्थन नहीं करती। हम इस बयान की निंदा करते हैं और पार्टी इस बयान पर उनसे स्पष्टीकरण मांगेगी। उन्हें इस बयान पर सार्वजनिक माफी देनी होगी।

साध्वी प्रज्ञा द्वारा नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहा जाता था

कमल हासन के नाथूराम गोडसे के बयान के बाद, मीडिया ने साध्वी प्रज्ञा से पूछा कि कमल हास ने जो बयान दिया है, उसमें कहा गया है कि नाथूराम गोडसे भारत का पहला आतंकवादी था, आप क्या कहते हैं, आप पर भी पहले भगवान के नाम पर आतंकवाद के मुद्दे पर आरोप लगते रहे हैं, दिग्विजय सिंह ने पहली बार इन शब्दों का इस्तेमाल किया था। नाथूराम गोडसे पर आप क्या कहते हैं? 

इसके जवाब में, साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। वे लोग जो उन्हें आतंकवादी कहते हैं, उनको अपने गिरेबान में झांक कर देखना चाहिए, मौजूदा चुनावों में उन्हें जवाब दे दिया जाएगा।