हिंसा के लिए TMC को दोषी ठहराते हुए अमित शाह ने कहा हम सत्ता में आते हैं तो…


(Photo Credit : theindianwire.com)

पश्चिम बंगाल में भड़की हिंसा के बाद टीएमसी-बीजेपी एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही है। एक तरफ ममता बेनर्जी करारे शब्दों के साथ बीजेपी पर हमला कर रही हैं, तो इस तरफ से बीजेपी के नेता  ममता बनर्जी पर हमला कर रहे हैं। अब अमित शाह ने एक बार फिर कहा है कि बंगाल में ममता बेनर्जी सरकार ने हिंसा को बढ़ावा दिया, जबकि हम प्रचार के माध्यम से विपक्ष पर हमला कर रहे थे। उन्होंने दावा किया कि बंगाल में ममता के शासन में हमारे लगभग 60 कार्यकर्ता मारे गए थे। राज्य के कानून के बारे में बात करते हुए अमित शाह ने कहा, कानून और व्यवस्था को देखने का काम राज्य सरकार का है ।

अमित शाह ने एक समाचार चैनल से बात करते हुए कहा, “जब हम बंगाल में सत्ता में आएंगे तो हम हिंसा को समाप्त कर देंगे। ममता के शासन में हिंसा बढ़ी है। नेताओं को चुनाव प्रचार के लिए रैलियों का परमिट नहीं दिया जाता है।

इससे पहले भाजपा ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करके मंगलवार को कोलकाता में रोड शो के दौरान समाज सुधारक ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने के लिए तृणमूल कांग्रेस के गुंडों को दोषी ठहराया। अमित शाह ने कहा कि देश में चुनाव के छह दौर खत्म हो चुके हैं, लेकिन हिंसा की घटनाएं केवल पश्चिम बंगाल में हो रही हैं।