फिल्मी डायलोग बाजी के मुड़ में ममता बैनर्जी!


(Photo Credit : ndtv.com)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी केंद्र की भाजपा नीत एनडीए सरकार और विशेष रूप से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से टकराने का कोई मौका नहीं चूक रही हैं। लोकसभा चुनाव में बंगाल में राजनीतिक नुकसान भुगत चुकी ममता बैनर्जी अपने मतदाताओं और समर्थकों को आश्वस्त करना चाहती हैं कि उनका मनोबल अभी भी कायम है और अपनी राजनीतिक जमीन बचाने के लिये वह हर संभव प्रयास करेंगी।

इसी क्रम में कोलकाता में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए ममता बैनर्जी ने एक बार फिर केंद्र सरकार के प्रति कड़ा रूख अख्त्यार किया। कड़ा रूख भी ऐसा कि उनके भाषण में मानो बॉलीवुड स्टाईल डायलोग बाजी की गूंज सुनाई दी।

ममता बैनर्जी ने सभी धर्मों की व्याख्या करते हुए कहा कि त्याग का नाम है हिंदु, इमान का नाम है मुसलमान, प्यार का नाम है इसाई, सिक्खों का नाम है बलिदान। ये है हमारा प्यारा हिंदुस्तान। इसकी रक्षा हम लोग करेंगे। जो हमसे टकरायेगा वो चूर-चूर हो जायेगा। ये हमारा स्लोगन है।

ममता ने अपने समर्थकों का आह्वान करते हुए कहा कि डरने की जरूरत नहीं है। मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है, वही होता है जो मंजूर-ए-खुदा होता है। कभी-कभी जब सूर्य चढ़ता है, तब उसकी किरणें काफी तेज होती हैं लेकिन फिर वे मंद पड़ जाती हैं। डरिये मत, जितनी तेजी से उन्होंने ईवीएम हथियाये, उतनी ही तेजी से वे चले भी जायेंगे।

बता दें कि २०२१ में पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव हैं और लोकसभा चुनाव के परिणामों पर दृष्टि करें तो मुकाबला तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच ही है। वामपंथी और कांग्रेस चित्र में हैं ही नहीं।