शोपियां में सेना ने 2 और आतंकी मार गिराए, आतंकियों के लिए अब सेना की क्या नीत‌ि होगी?


(Photo Credit : zeenews.com)

जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में सोमवार सुबह सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए। रिपोर्टों के अनुसार, यह मुठभेड़ जिला मोलू-चित्रगाम क्षेत्र में हुई। रिपोर्टों के अनुसार, सुरक्षा बलों को मुठभेड़ स्थल से 2 शव मिले हैं, लेकिन मृतकों की पहचान अभी तक नहीं की जा सकी है। कहा जा रहा है कि आधी रात को राष्ट्रीय राइफल्स के लगभग 44 जवानों पर आतंकवादियों ने गोलीबारी करी, जिसका सेना ने भी जवाब दिया।

रिपोर्टों के अनुसार, सेना की जवाबी कार्यवाही कुछ देर चली और 2 आतंकवादी मारे गए। हालांकि, पीड़ितों के बारे में अब तक कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है। बता दें कि इस साल के पहले 5 महीनों में कश्मीर में 23 विदेशियों सहित 100 से अधिक आतंकवादी मारे गए हैं, लेकिन सुरक्षा एजेंसियों की चिंता बड़ी संख्या में आतंकवादियों की भर्ती को लेकर है। अधिकारियों ने रविवार को कहा कि मार्च से लेकर अब तक कई आतंकवादी संगठनों में 50 युवा शामिल हो चुके हैं और सुरक्षा बलों को उनकी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति को रोकने के लिए सही रास्ता खोजना होगा।

अधिकारियों ने कहा कि 2019 में 31 मई तक 101 आतंकवादी मारे गए, जिनमें 23 विदेशी और 78 स्थानिक आतंकवादी थे। इसमें अल-कायदा के सहयोगी समूह अंसार घजवत-उल-हिंद का प्रमुख  जाकिर मूसा जैसे बड़े कमान्डर भी शामिल हैं। हालांकि, अधिकारियों के मुताबिक, हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों के अंसार घजवत-उल-हिंद में शामिल होने के मामले बढ़ गए हैं। 23 मई को मूसा को मार गिराने के बाद ऐसे विशेष मामले पाए गए हैं। आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए रणनीति बनाने में शामिल अधिकारियों का मानना ​​है कि आतंकवाद विरोधी नीति पर पुनर्विचार करने की आवश्यकता है।