पाकिस्तान भारत के साथ वार्तालाप के लिए उत्सुक, इमरान ने फिर लिखा मोदी को पत्र


(Photo Credit : geo.tv)

पाकिस्तान भारत के साथ बातचीत करने के लिए उत्सुक है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। उन्होंने यह पत्र दोनों देशों के बीच संबंधों में सुधार की उम्मीद के साथ लिखा है। इमरान खान ने PM मोदी से दक्षिण एशिया और पड़ोसी देशों में शांति के लिए एक साथ काम करने की इच्छा व्यक्त की है। सूत्रों के अनुसार, पत्र में कश्मीर विवाद का भी उल्लेख किया गया है।

बता दें कि प्रधानमंत्री इमरान खान का पत्र उस समय आया है जब भारत ने गुरुवार को कहा कि 13-14 जून को किर्गिस्तान के बिश्केक में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन के शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्तानी समकक्ष इमरान खान के बीच द्विपक्षीय बैठक की कोई योजना नहीं है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘जहां तक ​​मुझे पता है, बिश्केक के एससीओ सम्मेलन में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ द्विपक्षीय बैठक के लिए कोई योजना नहीं बनाई गई है।

इस बीच, एक दिन पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री एस. एम. कुरैशी ने भारत के नए विदेश मंत्री एस. जयशंकर को पत्र भेजके बधाई दी थी। पत्र में उन्होंने इस्लामाबाद और दिल्ली के बीच बातचीत द्वारा संबंधों में सुधार की उम्मीद जताई। पाकिस्तानी विदेश मंत्री की ओर से यह पत्र पाकिस्तान के विदेश सचिव सोहेल महमूद की भारत की अपनी व्यक्तिगत यात्रा के बाद आया है।

पाकिस्तान ने दावा किया है कि यह प्रधानमंत्री इमरान द्वारा अपने भारतीय समकक्ष का लगातार तीसरा पत्र है, जिसमें उन्होंने भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक संवाद पेश किया है।