गुजरात : महिला को सरेआम लात मारने वाले भाजपा विधायक की हो रही किरकिरी, प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघानी ने कहा, ‘माफी मांगो!’


चुनावों में जनता से वोटो की भीख मांगने वाले नेताओं का आचरण चुनावों के बाद कैसे बदल जाता है इसका ताजा उदाहरण गुजरात के अहमदाबाद में सामने आया है। अहमदाबाद की नरोड़ा विधानसभा सीट से भाजपा के बलराम थावाणी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वे सरेआम एक महिला को पिटते नजर आ रहे हैं। इसके बाद चहुं ओर विधायक की किरकिरी हो रही है।

इस पूरे घटनाक्रम के बारे में प्राप्त जानकारी के अनुसार एनसीपी की महिला कार्यकर्ता नीतू तेजवानी स्थानीय लोक-समस्या को लेकर विधायक के कार्यालय पर गई थी। बकौल नीतू तेजवानी, वे विधायक के पास पानी की समस्या को लेकर पहुंची थी लेकिन उनकी समस्या सुनने से पहले ही उन्हें तमाचा मार दिया। वे जमीन पर गिर गई, तो वे आगे बढे और उन्होंने उसे लात मारी। नीतू ने बताया कि विधायक के समर्थकों ने भी उनके व उनके पति के साथ मारपीट की।

बता दें कि इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो सामने आया है, जिसमें विधायक बलराम थावाणी और उनके समर्थक महिला के दिये बयान के अनुरूप ही मारपीट करते नजर भी आ रहे हैं।

घटना के बाद पहले तो बलराम थावाणी ने महिला के साथ मारपीट की बात को सिरे से नकार दिया। लेकिन जब उन्हें पता चला कि इस घटना का वीडियो सामने आ गया है और उसमें उनकी करतूत साफ नजर आ रही है, तो उन्होंने स्वीकार किया कि उन्होंने महिला पर हाथ उठाया और यह उनके आवेश में आकर हुई गलती है।

बलराम थावाणी ने बाद में मीडिया को कहा कि महिला और उसके पति ने पहले उन पर हमला किया था। उन्हें किसी ने पहले पीछे से मारा और बचाव में वे आगे बढ़े तो उनकी लात महिला को लग गई। लेकिन वीडियो से ऐसा कुछ नजर नहीं आ रहा ।

अब जब मामले ने तूल पकड़ लिया है, तब विधायक बलराम थावाणी यहां तक कह रहे हैं कि उन्होंने महिला से क्षमायाचना संबंधी बयान दे दिया है और जरूरत पड़ने पर वे प्रत्यक्ष रूप से भी माफी मांग लेंगे।

हालांकि प्राप्त जानकारी के अनुसार नीतू तेजवानी ने बलराम थावाणी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

राजनीतिक प्रतिक्रियाएं आने लगीं

इस घटना के बाद विपक्षी नेताओं ने भी विधायक के कृत्य की निंदा की है। गुजरात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा, विपक्ष नेता परेश धानाणी ने घटना को शर्मनाक करार दिया है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष जीतू वाघानी ने भी नरोडा के विधायक के इस कृत्य पर नाराजगी व्यक्त की है और विधायक से कहा है कि वे महिला की माफी मांगें। बलराम थावाणी को प्रदेश कार्यालय कमलम पर बुलाया गया है।

राज्य की महिला आयोग हरकत में

राज्य की महिला आयोग ने भी मामले का संज्ञान लेकर पूरी घटना की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।