फिल्मी अंदाज में यमुना एक्सप्रेस-वे पर लूट, गाड़ी पंक्चर कर बनाया निशाना


मथुरा (ईएमएस)। यूपी की योगी सरकार सड़क, हाईवे और फ्लाईओवर बनाने की बात कर रही है। लेकिन लोगों के लिए यातायात सुलभ तभी हो पाएगा, जब उन रास्तों से गुजरना सुरक्षित होगा। आए दिन उत्तर प्रदेश के कई इलाकों से कुछ-न-कुछ ऐसी घटना सामने आ ही जाती हैं जिससे पुलिस प्रशासन और सरकार पर सवाल उठने लगते हैं। ताजा घटना मथुरा के पास यमुना एक्सप्रेस- वे की है।

मथुरा जिले के बाजना थाना अंतर्गत यमुना एक्सप्रेस वे पर दो अपराधियों ने रोड होल्डअप की घटना को अंजाम दिया है। दरअसल अपराधियों ने पहले सड़क पुर नुकीली चीजें और एक्सेल फेंकी। जिससे कि कार के टायर पंक्चर हो जाएं या किसी तरह गाड़ी रुक जाए। बाद में आधा दर्जन बदमाशों ने उनसे नक़दी और सामान लूट लिया।

इस घटना का दिलचस्प पहलू यह है कि इसी रास्ते पर पहले मथुरा के डीएम की गाड़ी भी पंक्चर हुई थी। लेकिन अपराधियों ने शायद बंदूकधारी पुलिसकर्मी को देखकर लूटने का प्लान कैंसिल कर दिया। ऐसे में सवाल उठता है कि अगर डीएम ने इस घटना की पुलिस से शिकायत की तो फिर क्या वजह रही है कि उसपर ध्यान नहीं दिया गया। या जिलाधिकारी ने इतने गंभीर विषय पर ध्यान ही नहीं दिया।
हालांकि, बाद में दो अन्य यात्रियों द्वारा लूटपाट की घटना की जानाकरी मिलते ही एसएसपी ने मौके पर जाकर बारीकी से पड़ताल की और अन्य अधिकारियों को घटना की जांच के आदेश दिए।

पुलिस के मुताबिक दो यात्रियों के साथ लूटपाट की घटना हुई। एक यात्री कानपुर का था जबकि दूसरा आगरा का। उन्होंने बताया कि टायर पंक्चर होने के बाद जैसे ही यात्री टायर बदलने निकलता है, पीछे से घात लगाए बदमाश वहां पहुंचकर उनपर हमला कर देते हैं और उनसे लूटपाट करते हैं।

एसएसपी शलभ माथुर ने बताया कि बुधवार की रात दो घटनाएं हुई हैं, जिसमें अभियोग पंजीकृत करा दिया गया है। सभी पहलुओं की जांच हो रही है। जल्द ही मामले पर विस्तृत जानकारी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि अपराधियों ने दो घटनाओं को अंजाम दिया है। एक घटना लगभग साढ़े ग्यारह के करीब की है जबकि दूसरी घटना रात दो बजे के आस-पास की है।