पिता ने 3 बेटियों के साथ आत्महत्या की अनुमती के लिए PM को पत्र लिखा


(Photo Credit : pmindia.gov.in)

भारत में गर्मी की लहर और पानी की तंगी के कारण ऐसी स्थिति पैदा हो गई है जो बहुत गंभीर है। उत्तर प्रदेश में तो एक परिवार ने पानी की तंगी के कारण आत्महत्या करने की अनुमति मांगी है। उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक पिता ने अपनी तीन बेटियों के साथ आत्महत्या करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पत्र लिखकर अनुमति मांगी। पत्र में लिखा है कि उन्हें पीने का पानी भी नहीं मिलता है।

हाथरस जिले के हासया ब्लॉक में एक किसान चंद्रपाल सिंह ने उनके क्षेत्र में खारा पानी आने की शिकायत कई दिनों से सरकारी अधिकारियों से की थी। उन्होंने कहा कि हम इस पानी को नहीं पी सकते। जब भी मेरी बेटियाँ इस पानी को पीती हैं, तो उन्हें उल्टी हो जाती है। पानी में लवणता अधिक होने के कारण फसलें भी नष्ट हो रही हैं।

जल संकट के लिए छवि परिणाम

मेरे परिवार को बोतल का पानी पिलाने की मेरी हैसियत नहीं है। मेरे अनुरोधों से अधिकारियों को कोई फर्क नहीं पड़ा और अब मैंने प्रधानमंत्री से अपने जीवन और अपने नाबालिगों के जीवन को समाप्त करने की अनुमति मांगी है।

उसी इलाके में रहने वाले राकेश कुमार कहते हैं कि पानी इतना खारा है कि जानवर भी इसे नहीं पी सकते। हमें पीने का पानी लाने के लिए तीन से चार किलोमीटर चलना पड़ता है। पूरे मामले के बारे में पूछे जाने पर अधिकारियों ने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।