एक कर्मचारी ने पैट्रोल कार्ड इस्तेमाल करके कंपनी को लगाया लाखों का चुना


(Photo Credit : grimmermotors.co.nz)

अक्सर ऐसे भी मामले सामने आते है कि लोग जिस कंपनी में काम करते हैं, वे उसी कंपनी के साथ धोखा करते हैं। ऐसा ही एक मामला अहमदाबाद में हुआ है। एक कर्मचारी कंपनी की गाड़ीयों में पेट्रोल और डीजल भराने के बहाने लाखों रुपये का ग़बन कर रहा था। जब यह बात कंपनी के ध्यान में आई तब तक वह कर्मचारी कम्पनी के साथ लाखों रुपये की धोखाधड़ी कर चुका था। इसके कारण कंपनी ने कर्मचारी के खिलाफ पुलिस स्टेशन में धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई।

एक रिपोर्ट के अनुसार, अनिल तोबलीया नाम के एक व्यक्ति ने अहमदाबाद में सोला पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है कि उनकी कंपनी के डीजल और पेट्रोल भराने वाले कार्ड को स्वाइप करके सुशील झा नाम के व्यक्ति ने कंपनी के साथ 58 लाख रुपये की धोखाधड़ी की। आरोपी पेट्रोल पंप के सुपरवाइजर के साथ मिलकर अपनी कंपनी का पेट्रोल कार्ड स्वाइप करके कंपनी के साथ धोखाधड़ी करता था। इस घटना में आश्चर्य की बात यह है कि पुलिस जांच में पता चला है कि आरोपी एक या दो महिनों से नहीं बल्की 2015 से कंपनी में काम कर रहा था। वह कंपनी से ही वेतन लेकर कंपनी को ही लूट रहा था। फिलहाल पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर आरोपी की खोजबीन शुरू कर दी है।

पुलिस ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आरोपी भगतभाई के साथ मिलकर डीजल भराने के अलावा इस पेट्रोल कार्ड को स्वाइप किया। जून 2015 से फरवरी 2019 तक, अलग-अलग तारीखों पर कार्ड स्वाईप करके लगभग 58 लाख रुपये जितना पेट्रोल-डीज़ल कंपनी की गाड़ीयों में नहीं भराया। इसके बावजूद कार्ड स्वाइप करके इतने रुपये निकाल लिये।