देश के इन 6 जिलों को 5 वर्षों में डीज़ल मुक्त बनाने की योजना


(Photo Credit : tosshub.com)

वाहनों के धुएं से देश में प्रदूषण दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। सरकार इस प्रदूषण को रोकने के लिए नए नियम लागू कर रही है। अब देश का एक राज्य ऐसा है, जिसके 6 जिलों को अगले 5 वर्षों में डीजल मुक्त बनाने की पहल की गई है। नितिन गडकरी के अनुसार नागपुर, भंडार, गोंदिया, चंद्रपुर, गढ़चिरौली और वर्धा को डीजल मुक्त बनाने के लिए  शुरूआत की गई है।

CII की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि इन जिलों में पांच साल तक डीजल की कोई बूंद नहीं मिलेगी। यह एक बहुत मुश्किल काम है, लेकिन मैंने ट्रक और बसों को सीएनजी बनाने के लिए 6 कारखाने स्थापित किए हैं और 50 सीएनजी बसें इस स्थान पर चल रही हैं। इसके अलावा, उन्होंने आगे कहा कि हमें फंडिंग के वैकल्पिक स्रोतों की खोज करनी चाहिए। बैंकों के अलावा भी, वित्तीय क्रेडिट के वैकल्पिक स्रोतों की जांच की जानी चाहिए। पिछले पांच वर्षों में, लगभग 17 लाख करोड़ रुपये का निवेश परिवहन क्षेत्र में किया गया है।

उन्होंने आगे कहा कि MSME क्षेत्र में देश की प्रगति के लिए विकास और क्षमता की बड़ी संभावना है। इस संबंध में, उन्होंने निजी क्षेत्र से समर्थन भी मांगा। उन्होंने निजी उद्योगों को लेकर कहा कि केंद्र सरकार किसी भी उद्योग को बंद करने की योजना नहीं बना रही है, लेकिन राष्ट्र हित को ध्यान में रखते हुए बदलाव करना चाहिए।