सूरत और मुंबई के बीच क्रूज सेवा शुरु


(PC : Twitter/@EssarPorts)

सूरत और मुंबई के बीच बहु-प्रतिक्षित यात्री क्रूज सेवा का ऑपचारिक शुभारंभ शुक्रवार 15 नवंबर, 2019 से हो गया। एस्सार पोर्ट्स के उपक्रम एस्सार बल्क टर्मीनल लि. (ईबीटीएल) की ओर से प्राप्त जानकारी के अनुसार उसके हजीरा स्थित टर्मीनल पर यात्री क्रूज के लिये आवश्यक तमाम सुविधाएं सुलभ हैं और कहा जा सकता है कि सूरत और मुंबई का बांद्रा-वर्मी सि-लिंग अब क्रूज सेवा से जुड़ चुका है। भविष्य में हजीरा स्थित इस टर्मीनल से अन्य स्थानों के लिये लिये भी सेवाएं शुरु हो सकती हैं। आज के ट्रायल रन के बाद सूरत-मुंबई के बीच की व्यावसायिक सेवा 22 नवंबर से शुरू होगी।

250 यात्रियों की क्षमता वाले इस क्रूज में कुल 3 डेक हैं। इसमें भारतीय और कोन्टीनेंटल भोजन परोसा जायेगा। यात्रा में सुगमता के लिये इसमें बो-थ्रस्टर के लिये दो स्क्रू-वेसल हैं।

एमवी सोफिया नामक यह क्रूज बांद्रा-सि लिंक से हर गुरुवार को शाम को 5 बजे रवाना होगा और अगले दिन शुक्रवार को सुबह 9 बजे सूरत पहुंचेगा। फिर उसी दिन शुक्रवार को शाम 5 बजे रवाना होकर अगले दिन शनिवार को सुबह 9 बजे मुंबई पहुंचगा। सूत्रों के अनुसार इस क्रूज का रवाना होने का समय शाम 5 बजे का इसलिये रखा गया है ताकि यात्री और पर्यटक पूरी रात क्रूज में रहने का आनंद उठा सकें।

एस्सार पोर्ट के एमडी और सीईओ राजीव अग्रवाल ने मीडिया से साझा की गई जानकारी के अनुसार इस उपक्रम का उद्देश्य सूरत और मुंबई के अलावा गुजरात के अन्य तटीय इलाकों को समुद्री रास्ते से जोड़ना है जिससे सड़क यातायात में भीड़ कम हो, ईंधन की बचत हो और वायु प्रदूषण में कमी आए।

बता दें कि एस्सार कंपनी की ओर से हजीरा पैसेंजर फेरी टर्मीनल अपनी तरह का तीसरा प्रोजेक्ट है। हजीरा टर्मीनल रिकॉर्ड 8 महीनों में बनकर तैयार हुआ है जहां मरीन स्ट्रक्चर, लैंडिंग प्लेटफोर्म, पैसेंजर मार्ग, फ्लॉटिंग पुनटून, टर्मीनल बिल्डिंग, कैफेटेरिया और पार्किंग आदि सुविधाएं उपलब्ध हैं। इस प्रकार की फैरी सेवाओं से पर्यटन को अवश्य ही बढ़ावा मिलेगा।