कांग्रेस की प्राथमिका NDA सरकार हटाना, PM पद की दावेदारी नहीं!


(PC : kashmirreader.com)

लोकसभा चुनाव 2019 अपने अंतिम पड़ाव पर है। सातवें और आखिरी चरण का मतदान शेष है, उसके बाद 23 मई को चुनाव परिणाम घोषित कर दिये जायेंगे। भाजपा और एनडीए की ओर से तो कोई संशय नहीं कि बहुमत मिलने पर नरेन्द्र मोदी ही दौबारा प्रधानमंत्री बनेंगे। यद्यपि जहां तक विरोधी खेमे का संबंध है, जितनी पार्टियां उतने ही पीएम पद के दावेदार भी हैं। 23 मई के बाद विपक्ष की ओर से किसकी दावेदारी में दम होगा यह तो सीटों के आंकडों से ही पता चलेगा।

लेकिन प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस की ओर से संकेत दिया गया है कि उनकी प्राथमिकता एनडीए सरकार को हटाना है। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने बिहार की राजधानी पटना में मीडिया से बातचीत करते हुए साफ-साफ कहा कि यदि विपक्षी खेमे के पास सरकार बनाने लायक नंबर आते हैं और सभी की आम राय कांग्रेस के नेतृत्व के लिये बनती है तो ही हम प्रधानमंत्री पद के लिये दावा करेंगे। वरना कांग्रेस पार्टी का लक्ष्य यह सुन‌िश्चित करना है कि एनडीए की सरकार दोबारा ना बने।

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हम इस बात को मुद्दा बनाने वाले नहीं है कि यदि कांग्रेस का प्रधानमंत्री नहीं बनता है तो हम और अन्य किसी को भी प्रधानमंत्री नहीं बनने देंगे।