कंप्यूटर बाबा की शरण में दिग्गी राजा, हठ योग धाम में की पूजा


(PC : Twitter)

इस बार का लोकसभा चुनाव कई मायनो में रोचक है। एक ओर जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ विपक्षी दलों ने जहां तक संभव हो सका, एकजुट रहकर मुकाबला कर रहे हैं। वहीं प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस पार्टी ने अपने कई पुराने दिग्गजों को भी मैदान में उतारा है। पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी का मानना है कि अपने आप को दिग्गज राजनेता कहने वालों का अपना जनाधार साबित करना होगा। शायद इसीलिये मध्यप्रदेश की भोपाल संसदीय सीट से कांग्रेस के दिग्वजिय सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है।

याद रहे कि किसी जमाने में मध्यप्रदेश में दिग्गी राजा की तूती बोलती थी, लेकिन फिर जब एक बार कांग्रेस सत्ता से खिसकी तो लगातार दूर ही होती चली गई। यद्यपि पिछले विधानसभा चुनाव में वरिष्ठ नेता कमलनाथ और युवा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पासा पलटा और भाजपा से सत्ता हथियाई। अब मुकाबला लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के अस्तित्व का है। वहीं चुंकि दिग्वजिय भी चुनाव मैदान में हैं, इसलिये इस बार उनकी साख भी दांव पर है।

अपनी साख बचाने के लिये दिग्गी राजा ने चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। वे हर तरह के पैंतरे आजमा रहे हैं। अब जबकि चुनाव प्रचार अपने आखिरी चरण में हैं, दिग्गी राजा अब कंप्यूटर बाबा की शरण में पहुंचे हैं। भोपाल में जहां कंप्यूटर बाबा ने अपने हजारों साधु-संतों के साथ हठ योग के लिये डेरा डाल रखा है, वहां जाकर दिग्विजय सिंह ने बाकायदा सपत्नीक पूजा भी की। शायद उन्होंने मिन्नत मांगी होगी कि इस चुनाव में भगवान उनका बेड़ा पार कर दें। वैसे बता दें कि भोपाल से दिग्विजय सिंह का मुकाबला भाजपा की साध्वी प्रज्ञा सिंह से है।