पहली महिला रक्षामंत्री बनने के बाद अब निर्मला सितारमन बनी पहली महिला वित्तमंत्री


नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में मंत्रालयों का वितरण किया गया है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मंत्रिमंडल बनाने के लिए कुछ चौंकाने वाले निर्णय लिए। सरकार का सबसे महत्वपूर्ण मंत्रालय माना जाने वाला वित्त मंत्रालय पहली बार एक महिला मंत्री के हाथों में सौंपा गया है। निर्मला सीतारमण को देश की पहली महिला वित्त मंत्री बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में निर्मला सीतारमन देश की पहली महिला रक्षा मंत्री बनीं थी। हालांकि इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थी तब उन्होने थोड़े समय के लिए वित्त मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय को अपने पास रखा था, लेकिन वित्त मंत्रालय अब पूर्णकालिक निर्मला सीतारमण के साथ रहेगा। वित्त मंत्रालय के अलावा, उन्हें कॉर्पोरेट मामलों का मंत्रालय भी सौंपा गया है।

तमिलनाडु के मदुराई में जन्मी निर्मला सीताराम ने प्राथमिक शिक्षण तिरुचिरापल्ली से लिया था। उन्होंने सीतालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज से अर्थशास्त्र में बीए की डिग्री हांसिल की है। उन्होंने दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से मास्टर्स की उपाधि प्राप्त की। निर्मला सीतारमन के पिता एक रेलवे कर्मचारी थे, इसलिए उनका बचपन अलग-अलग राज्यों में बीता।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को स्वास्थ्य के कारण मंत्री पद ना देने के लिए पत्र लिखा था। चर्चा थी कि पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय सौंप दिया जाएगा लेकिन उन्हें रेल मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी निर्मला सीतारमण को वित्त मंत्रालय की बड़ी जिम्मेदारी देकर अपनी महिला सशक्तीकरण की बात पर अधिक जोर देते नजर आए।