स्मृति ईरानी के प्रचार में रात-दिन एक कर देने वाले सुरेन्द्र सिंह की अमेठी में हत्या


(PC: indiatoday.in)

उत्तरप्रदेश के अमेठी में बिती रात भाजपा सांसद स्मृति ईरानी के करीबी माने जाने वाले बरोलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेन्द्र सिंह की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैली हुई है। उत्तरप्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह के अनुसार पुलिस ने मामले में सात लोगों को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया है और मामले की जांच जारी है।

इस हत्याकांड के विषय में पुलिस ने कहा कि बरोलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेन्द्र सिंह को रविवार तड़के ३ बजे अज्ञात हमलावरों ने गोली मारी। गंभीर अवस्था में उन्हें ईलाज के लिये लखनऊ ले जाया गया जहां उन्होंने आखिरी सांस ली।

 

लोकसभा चुनाव के दौरान लोगों को जूते वितरित करने को लेकर वे चर्चा में आये थे। उनकी स्मृति ईरानी के निकट के कार्यकर्ता के रूप में पहचान थी। बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उस वक्त बरोलिया गांव में जूतों का वितरण करवाकर अमेठी का अपमान करने का आरोप स्मृति ईरानी पर लगाया था।

उल्लेखनीय है कि इसी बरोलिया गांव को पूर्व रक्षामंत्री मनोहर परिकर ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिया था। ऐसा कहा जाता है कि सुरेन्द्र सिंह ने गांव-गांव घूमकर स्मृति इरानी का जोरदार प्रचार किया था। वे उनकी हर सभा में उपस्थित रहते थे। स्मृति इरानी ने भी उनके काम की तारीफ की थी।

‌हादसे के बाद सुरेन्द्र सिंह के पुत्र अभय सिंह ने कहा कि हत्या के पीछे क्या कारण रहा होगा इसका उन्हें पता नहीं है। परंतु स्पष्ट है कि कांग्रेस के कार्यकर्ता ही इस हत्या के लिये जिम्मेदार हैं। मेरे पिता ने हमारे बुथ से स्मृति इरानी और भाजपा को वोट दिलाने में सक्रिय भूमिका निभाई थी।