सुरक्षा एजेंसियों द्वारा आतंकी हमले का इनपुट, अयोध्या हाई अलर्ट पर


(Photo Credit : ndtvimg.com)

सुरक्षा एजेंस‌ी को उत्तर प्रदेश की धर्मनगरी अयोध्या में आतंकवादी हमले का इनपुट मिला है। इसके चलते हाईकोर्ट में हाई अलर्ट दिया गया है। सूचना मिली है कि नेपाल के रास्ते भारत में घुसे आतंकवादियों के निशाने पर अयोध्या हो सकता है। यहां आने वाले लोगों की सघन जांच की जा रही है। पुलिस होटल और धर्मशालाओं पर भी नजर बनाए हुए है। अयोध्या में आतंकवादी हमले के साजिशकर्ताओं को 18 जून को इलाहाबाद की अदालत में सज़ा सुनाई जाएगी। कोर्ट के फैसले पर भी अयोध्या में हाई अलर्ट है।

गौरतलब है कि 5 जून 2005 को विवादित परिसर पर आतंकवादी हमला हुआ था। इस हमले को सुरक्षा बलों द्वारा निष्फल कर दिया गया था। लश्कर-ए-तैयबान को इस हमले को अंजाम देने में नाकाम करके सुरक्षा बलों ने पांच आतंकवादियों को मार गिराया था। इस हमले के जवाब में, भारतीय जनता पार्टी ने देश भर में विरोध प्रदर्शन किया। हमला कश्मीर से जुड़े होने के कारण चार लोगों को हिरासत में लिया गया था, जिन पर आतंकवादी हमले की साजिश रचने का आरोप था। अयोध्या में अभी कुछ कार्यक्रम चल रहे हैं। 14 जून को राज्य के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, 15 जून को केशव मोर्या और 16 जून को शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे भी अयोध्या में होंगे।

उल्लेखनीय है कि 6 जून को शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि भाजपा के पास 303 सांसद हैं और शिवसेना के पास 18, अब किसकी जरूरत है। शिवसेना ने राम मंदिर के मुद्दे पर अपना व्यवहार फिर से आक्रामक किया है और इसे लेकर राजनीति गर्माने लगी है। उधर, भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने भी राम मंदिर पर सवाल उठाए हैं।