विधायक बलराम थवानी और नीतू तेजवानी के बीच समाधान, एक-दूसरे को भाई-बहन मान गिले-शिकवे दूर किये


(Photo Credit : ANI)

कल, अहमदाबाद के विधायक बलराम थवानी ने पानी के मुद्दे पर आवेदन करने आई महिला को सार्वजनिक रूप से पीटा था। विधायक ने महिला को लात भी मारी। इस घटना के बाद पीड़िता ने बलराम थवानी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। शिकायत के बाद, दोनों पक्षों के बीच एक समझौता हुआ है, बलराम थवानी ने पीड़ित के घर पर एनसीपी नेता और पीड़िता से मुलाकात की। दोनों पक्षों के बीच सुलह हो गई थी। सुलह के बाद, पीड़िता ने बलराम थवानी के हाथ में राखी बांधी और भाई बनाया। उसके बाद, उसका मुंह भी मीठा कराया।

समझौता होने के बाद विधायक बलराम थवानी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि कल जो घटना हुई, वह नासमक्षी थी। और अब यह खत्म हो गया है। यह मेरी छोटी बहन जैसी है। कल मैंने जाने-अनजाने में गलती करदी। मैंने अपनी बहन से कहा, मुझसे गलती हो गई। हमने समझौता किया है मैंने अपनी छोटी बहन को बता दिया है कि तुम्हारा भाई बैठा है। मैं किसी भी व्यवसाय के लिए बैठा हूं।

समाधान के बाद महिला ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “विधायक बलराम थवानी ने कहा कि इस स्थान पर मेरी बहन होती तो क्या मुद्दा होता। मैने तुमको बहन माना था, और बहन समझ कर ही मैने तुमको थप्पड़ भी मार दिया। मेरा कोई गलत विचार नहीं था। बड़े भाई हैं, इसमें कोई दिक्कत नहीं है। सुलह सबने साथ मिलकर किया है। अगर समस्या जारी रही, तो हम अभी भी इसका विरोध करेंगे।