36 घंटे बाद घर लौटी लापता स्नैपडील इंजीनियर


नई दिल्ली । स्नैपडील में काम करने वाली लापता इंजीनियर दीप्ति सरना का पता चल गया है और वह घर पहुंच चुकी है। पुलिस के मुताबिक दीप्ति ने हरियाणा के पानीपत से परिवार को फोन किया था। दीप्ति ने परिवार को बताया कि वो सही सलामत है। दीप्ति की मां ने भी कहा कि उनकी बेटी सही सलामत घर आ रही है।
सवाल ये है कि आखिर ३६ घंटे तक दीप्ति कहां थी। पुलिस हापुड़ और गाजियाबाद में दीप्ति की तलाश में लगी रही, यहां तक कि घोड़ों और कुत्तों की भी मदद ली गई। फिलहाल परिवारवालों की गुजारिश पर पुलिस अभी दीप्ति से पूछताछ नहीं कर रही है। खुद यूपी के डीजीपी जावेद अहमद ने बातचीत में इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि दीप्ति मिल गई है और अपने घर में परिवार के साथ है। सुबह ७.३० बजे दीप्ति ने अपने भाई को फोन किया था। दीप्ति अपने परिवार के साथ है। अब ३६ घंटे की कहानी पता चलेगी कि क्या हुआ।
वहीं आईजी लॉ एंड ऑर्डर भगवान स्वरूप ने कहा कि दीप्ति परसों रात से गायब थी। उसने एक ऑटो किया था, जिसमें आगे जाकर एक और लड़की बैठी थी, वो लड़की तो उतर गई थी पर ये नहीं उतरी। रात ८ बजे के करीब फोन डेढ़ घंटे के लिए ऑफ हो गया था। सुबह परिवार से संपर्क किया और पानीपत से मिल गई और गाजियबाद पहुंच गई है। हम जांच कर रहे हैं कि किडनैपिंग का मामला था या कुछ और।
देर रात गाजियाबाद के हिंडन नहर के पास पहुंचते ही ऑटो में सवार युवकों ने दीप्ति की सहेली को चाकू दिखाकर उतार दिया। उसके बाद ऑटो चालक लड़की को लेकर फरार हो गया। वहीं मामले की जानकारी होते ही यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गाजियाबाद के एसएसपी को जल्द से जल्द लापता लड़की का पता लगाने के निर्देश भी दे दिए थे। यूपी सरकार ने लापता लड़की की तलाश के लिए जांच एसटीएफ को सौंप दी है। पुलिस ने उस इलाके में जाकर जांच की जहां उसके मोबाइल की लास्ट लोकेशन आई थी।
हालांकि पुलिस कई ऑटो वालों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी कर रही है लेकिन शहर के कई चौराहों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के खराब होने से पुलिस को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।