2016 में पीएम मोदी के कई विदेशी दौरे


नई दिल्ली । पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रिकॉर्ड विदेशी दौरे लगातार र्सुिखयां बने। उन्होंने गुजरे साल करीब २६ देशों का दौरा किया। पिछले साल के मुकाबले इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भले ही कम देशों की यात्रा करें लेकिन ये सभी दौरे देश में निवेश और सुरक्षा के लिहाज से काफी अहम और महत्वपूर्ण साबित होंगे।
साल २०१६ में पीएम मोदी का पाकिस्तान, जापान, अमेरिका और चीन जैसे देशों का दौरा प्रस्तावित है। पीएम मोदी शुरूआत से ही अपने विदेशी दौरों पर काफी लोकप्रिय नेता के तौर पर नजर आते आए हैं। जानकारों की मानें तो प्रधानमंत्री की विदेशी यात्रा में अलग ही निजी स्पर्श दिखाई देता है, जो पहले किसी अन्य प्रधानमंत्री के दौरों पर नही दिखता था। यही कारण है कि वैश्विक स्तर पर मोदी की लोकप्रियता का ग्राफ लगातार बढ़ता ही जा रहा है।
मोदी इस साल मार्च के अंत में अपने विदेशी दौरों की शुरूआत अमेरिका के साथ शुरू करेंगे। मोदी का मार्च में वॉिंशगटन में परमाणु सुरक्षा सम्मेलन में भाग लेने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। इस समिट में भारत की तरफ से परमाणु परिसंपत्तियों की सुरक्षा के प्रस्ताव पेश करने की उम्मीद है। इसके अलावा, भारत एनएसजी और एमटीसीआर तरह निर्यात नियंत्रण व्यवस्थाओं की सदस्यता की वकालत भी कर सकता है।
अपने इस दौरे में पीएम मोदी और पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के बीच मुलाकात भी हो सकती है। गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी की अचानक पाकिस्तान यात्रा के बाद दोनों देशों के बीच संबध सुधरने की ओर कदम बढ़ाने की बात होने लगी है। ऐसा ही कोई कदम इस मुलाकात उठता दिख सकता है।
प्रधानमंत्री इस साल एक बार फिर चीन की यात्रा पर रहेंगे। प्रधानमंत्री रहते हुए ये मोदी की दूसरी चीन यात्रा होगी । प्रधानमंत्री यहां जी-२० सम्मेलन में भाग लेंगे। यह सम्मेलन नवंबर में आयोजित होगा।
ऐसा माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल जुलाई में लैटिन अमेरिकी के तेल समृद्ध देश वेनेजुएला के दौरे पर रहेंगे। पीएम मोदी पहली बार यहां नेम सम्मेलन में भाग लेंगे। पीएम मोदी लैटिन अमेरिका के इस दौरे के दौरान लैटन अमेरिका के कई अन्य देशों के दौर पर भी रहेंगे
इस साल नवंबर में इंडिया-एशियन और ईस्ट एशिया समिट की मेजबानी लाओस कर सकता है। अपने इस दौरे के दौरान पीएम मोदी राजधानी दिल्ली के लिहाज से कुछ अन्य महत्वपूर्ण रणनीतिकार साझेदारों के साथ मुलाकात कर सकते हैं।
भारत-जापान र्वािषक शिखर सम्मेलन वैकाqल्पक रूप से दिल्ली और टोक्यो में आयोजित किया जाना है। दोनों देश इस समिट में रक्षा, परमाणु ऊर्जा, समुद्री सुरक्षा और निवेश के क्षेत्रों में सामरिक भागीदारी के विस्तार पर चर्चा करेंगे
इस साल प्रधानमंत्री मोदी की सबसे र्चिचत विदेशी यात्रा पाकिस्तान की रहने वाली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान में सार्वâ सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पहुंचेंगे। यह सम्मेलन सितंबर-नवंबर में आयोजित होगा। अपने इस पाकिस्तान दौरे के दौरान पीएम मोदी अन्य एशियाई नेताओं के साथ भी मुलाकात करेंगे।