14 देशों में फैला है कीर्ति चिदंबरम का एम्पायर


नई दिल्ली । मंगलवार को संसद में एआईएडीएमके द्वारा राज्यसभा में पूर्व केद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे र्काित के खिलाफ किए गए हंगामे के बाद यह मुद्दा फिर गरमाने लगा है। र्काित पिछले साल एयरसेल-मौqक्सस घोटाले में मारे गए छापों के बाद र्सुिखयों में आए थे। इसके बाद अब एक अंग्रेजी अखबार ने दावा किया है ईडी और इन्कम टैक्स द्वारा जांच के दौरान बरामद किए कागजों के माध्यम से यह उजागर किया है कि र्काित के पास १४ देशों में पैâला हुआ कारोबार है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि जांच एजेंसियों को र्काित के इंग्लैंड, यूएई, दक्षिण अप्रâीका, िंसगापुर और थायलैंड समेत १४ देशों में रियल स्टेट और दूसरे बिजनेस में निवेश के सबूत मिले हैं। एयरसेल-मौqक्सस घोटाले की जांच कर रही ईडी और इन्कम टैक्स ने दावा किया है कि र्काित ने २००६-१४ के बीच इन देशों में अपना व्यापार बढ़ाया और अवूâत संपत्ति बनाई है। मालूम हो कि इस दौरान यूपीए का शासन था और र्काित के पिता पी. चिदंबरम उस सरकार में गृह मंत्री रह चुके हैं।
बताया जा रहा है कि जांच एजेंसियां र्काित की वंâपनी एडवांटेज स्ट्रेटेजिक वंâसिंल्टग की जांच कर रही हैं जो कि एयरसेल-मौqक्सस डील में शामिल थी। बरामद कागजात के अनुसार र्काित द्वारा ज्यादातर सौदे और ट्रांजेक्शन एडवांटेज स्ट्रेटेजिक की िंसगापुर ाqस्थत वंâपनी से किए गए हैं। ईडी और आईटी की टीमें अब इन १४ देशों में संपर्वâ कर इन प्रॉपर्टीज की डिटेल्स प्राप्त करने में लगी हैं। जांच में यह भी सामने आया है कि िंसगापुर ाqस्थत एडवांटेज स्ट्रेटेजिक वंâपनी ने सितंबर २०११ में समरसेट में ८८ एकड़ जमीन खरीदी थी जिसकी कीमत उस समय एक मिलियन पाउंड थी। इसी वंâपनी ने श्रीलंका में ाqस्थत एक बड़ी रिसॉर्ट वंâपनी लंका फॉच्र्यून रिसॉर्ट में भी बड़ी संख्या में शेयर्स खरीदे थे। लंका फॉच्र्यून रिसॉर्ट के दी वाटरप्रंâट और वेलिगामा बे रिसॉर्ट के अलावा एमराल्ड होटल हैं।
जांच में यह भी कहा गया है कि एडवांस ने दक्षिण अप्रâीका में तीन विनयाडर्् भी खरीदे जिनकी पहचार ग्रैबो में रोवे फार्म, वैâप ऑर्चर्ड एंड विनयाड्र्स प्रायवेट लिमिटेड और झेडविलीट एंटरप्राजेस के रूप में हुई है। इसके अलावा एश्टन में वाइन और स्टड फार्म भी वंâपनी के नाम है। इन फार्मों को खरीदने के लिए पैसा दुबई के रास्ते गया था। दुबई में ाqस्थत डेजर्ट डून्स प्रॉपर्टीज ने र्काित की वंâपनी के साथ १.७ मिलियन िंसगापुर डॉलर का ट्रांजेक्शन किया है। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि इसके र्काित की वंâपनी में निवेश भी हैं। इसके अलावा पर्ल दुबई एफएक्स एलएलसी के भी एडवांटेज के साथ फायनेंशियल ट्रांजेक्शन्स हैं। यहीं नहीं इसके अलावा और भी कई चौंकाने वाली जानकारियां इस छापे में सामने आई हैं।