हरियाणा विधानसभा : इसी सत्र में आएगा जाट आरक्षण विधेयक


चंडीगढ़। हरियाणा सरकार विधानसभा में जल्द शुरू होनेवाले सत्र में एक विधेयक पेश करने जा रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का कहना है कि १४ मार्च से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में पांच जातियों को आरक्षण देने का विधेयक लाया जाएगा। इनमें जाट, जाट सिख, त्यागी, विश्नोई और रोरस शामिल हैं।
खट्टर ने कहा कि पांच सदस्यों की समिति ने प्रधान सचिव की अध्यक्षता में इस विधेयक का मसौदा तैयार कर दिया है, ताकि संविधान के दायरे में इन जातियों को आरक्षण दिया जा सके। उन्होंने बताया कि इस विधेयक का मसौदा तैयार करने में सलाह देने के लिए सर्वदलीय समिति का गठन किया गया है। खट्टर ने कहा, अगर सर्वदलीय समिति नए विधेयक को सर्वसम्मति से तैयार करने में सफल होती है तो विधानसभा में इसे बिना बहस के पारित किया जा सकेगा।
गौरतलब है कि प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने राज्य में जाट व अन्य समुदाय से आरक्षण का वादा किया था। हाल ही में जाट आन्दोलन के दौरान राज्य प्रशासन ९ दिनों तक पंगु बना रहा। इस दौरान कम से कम ३० लोगों की हत्या हुई और २०० से ज्यादा घायल हुए। साथ अरबों रुपये की संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया।