स्मृति ईरानी के काफिले से मौत पर प्रदर्शन, एफआईआर दर्ज़


मथुरा| केंद्रीयमानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी के काफिले की कार से मृत बाइक सवार के परिजनों और कांग्रेसियों ने पोस्टमार्टम गृह के समक्ष रविवार को जाम लगाकर मृतकों के परिजनों को मुआवजा दिलाए जाने की मांग की। विदित रहे कि शनिवार वृंदावन में आयोजित भारतीय जनता युवा मोर्चा के अधिवेशन में भाग लेकर लौट रहीं केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी के काफिले की चपेट में आकर बाइक सवार आगरा निवासी रमेश कुमार की मौत हो गई थी। गुस्साए परिजनों ने जिला युवक कांग्रेस विक्रम बाल्मीकि और एनएसयूआई के प्रदेश महामंत्री मुकेश धनगर के नेतृत्व में पोस्टमार्टम गृह के समक्ष दिल्ली-मथुरा मार्ग पर लगभग एक घंटे तक जाम लगाकर मृतक के परिजनों को मुआवजा दिलाए जाने की मांग की। ज्ञापन लेने पहुंचे पुलिस उपाधीक्षक चक्रपाणि त्रिपाठी ने मृतक के परिजनों को न्यायोचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। जाम लगाने वालों में एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष विवेक अग्रवाल, विष्णु शर्मा, हरीश सारस्वत, अशोक वाल्मीकि, तरुण शर्मा, दीपक करौतिया आदि मौजूद रहे।