सुषमा स्वराज श्रीलंका के 2 दिवसीय प्रवास पर


०मछुआरें मुद्दे और अल्पसंख्यक तमिलों अधिकारों पर वार्ता संभवित
नईदिल्ली । विदेश मंत्री सुषमा स्वराज दो दिवसीय यात्रा पर कोलंबो रवाना हो गर्इं। इस दौरान उनके शीर्ष श्रीलंकाई नेतृत्व के साथ मछुआरों के मुद्दे और अल्पसंख्यक तमिलों के अधिकारों पर बात करने की संभावना है। सुषमा और उनके श्रीलंकाई समकक्ष मंगला समरवीरा से अहम द्विपक्षीय एवं क्षेत्रीय मामलों पर बातचीत करने के लिए शुक्रवार को कोलंबो में नौवीं संयुक्त आयोग बैठक की सह अध्यक्षता करेंगे। दोनों नेता इस दौरान र्आिथक सहयोग, व्यापार, विद्युत एवं उर्जा, तकनीक एवं समुद्री सहयोग, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं शैक्षणिक मामलों, विज्ञान एवं तकनीक, रक्षा सहयोग, स्वास्थ्य, नागर विमानन, पर्यटन और लोगों के बीच आपसी संपर्वâ जैसे द्विपक्षीय मामलों पर बात करेंगे। संयुक्त आयोग की स्थापना १९९२ में की गई थी ताकि द्विपक्षीय सहयोग संबंधी मामलों से निपटने के लिए एक तंत्र विकसित किया जा सके। संयुक्त आयोग की आखिरी बैठक जनवरी २०१३ में नई दिल्ली में हुई थी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कल कहा था कि श्रीलंकाई नेताओं के साथ सुषमा स्वराज की बैठक में मछुआरों से जुड़े मुद्दे पर बातचीत होने किए जाने की संभावना है। मछुआरों का मुद्दा भारत-श्रीलंका संबंधों में प्रमुख अड़चन बना हुआ है।