सबसे बड़ी टैक्स लीक में 500 से ज्यादा भारतीय : बिगबी और ऐश्वर्या के भी नाम


नई दिल्ली . पनामा स्थित लॉ फर्म मोसेक फोंसेका के दस्तावेज लीक होने से टैक्स हैवेन में अपना धन छिपानेवाले नामचीन भारतीयों का नाम सामने आया है. इस खुलासे से सनसनी फैल गई है. सामने आए नामों में बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन, डीएलएफ के केपी सिंह, ऐश्वर्या रॉय बच्चन, उद्योगपति अदानी के बड़े भाई और इकबाल मिर्ची शामिल हैं.

एक करोड़ दस लाख से ज्यादा लीक हुए दस्तावेजों में करीब 500 भारतीयों के नाम हैं. इन्होंने टैक्स छिपाने के लिए अपना धन टैक्स हैवेन देश पनामा में ब्रिटिश वर्जिन आईलैंड में लगाया. अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस ने अपनी जांच में पाया कि सभी ने सेवाओं का लाभ उठाने के लिए कंपनी को भुगतान किया.

भारतीयों की बात की जाए तो इनमें अमिताभ बच्चन से लेकर ऐश्वर्या रॉय बच्चन, डीएलएफ के मालिक केपी सिंह और उनके परिवार के 9 सदस्य, अपोलो टायर के प्रमोटर विनोद अडानी जो प्रसिद्ध उद्योगपति गौतम अडानी के बड़े भाई हैं, शामिल है. साथ ही इन नामों में दो राजनेताओं के नाम का खुलासा हुआ है, पश्चिम बंगाल से शिशिर बजोरिया, लोकसत्ता पार्टी के दिल्ली इकाई के पूर्व मुखिया अनुराग केजरीवाल के नाम शामिल हैं.

यही नहीं इस लिस्ट में अंडरवर्ल्ड डॉन इकबाल मिर्ची का नाम भी शामिल है हालांकि वो जीवित नहीं है. साथ ही कई अन्य उद्योगपति सामने आए हैं जो पंचकूला, वड़ोदरा, देहरादून से हैं.

पनामा स्थित लॉ फर्म मोसेक फोंसेका के 1.10 करोड़ दस्तावेज लीक हो गए हैं. इनसे पता चला है कि वहां 500 से ज्यादा भारतीयों के खाते हैं. यही नहीं, दुनिया के 12 देशों के मौजूदा या पूर्व राष्ट्र प्रमुखों के नाम भी खातेदारों की सूची में हैं. सबसे बड़ा नाम पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का है.

मोसेक फोंसेका के 1977 से लेकर 2015 तक के दस्तावेज लीक हुए हैं. फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि वहां के खातों में जमा पैसा कालाधन है या नहीं? जांच की जा रही है कि क्या यह पैसा टैक्स से बचाने के लिए वहां जमा किया गया था?

दुनिया की नामी हस्तियों के नाम होने से इन दस्तावेजों के लीक होने पर बवाल मचना तय माना जा रहा है। सूची में आईसलैंड के प्रधानमंत्री का भी नाम है.