विशाखापट्टनम: बायोडीजल प्लांट में भीषण आग से 12 टैंक जलकर राख, 120 करोड़ का नुकसान


विशाखापट्टनम। आंध्रप्रदेश के विशाखापटटनम मंगलवार शाम को एक बायोडीजल फैक्टरी में भीषण आग लग गई। यह आग दुवड़ स्थित बायोमैक्स फ्यूल लिमिटेड बायोफ्यूल प्लांट में लगी। आग से यहां रखें 12 फ्यूल टैंक जलकर राख हो गए हैं। 40 दमकल घटनास्थल पर मौजूद हैं जो आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहीं है। इस आग को बुझाने में नेवी की टीम भी बुलाई गई है। भारतीय नेवी कमांडर ने बताया कि दमकल की गाडिय़ां मौके पर हैं और आग बुझाने का काम जारी है। इन सभी टैंकरों में ज्वलनशील पदार्थ हैं। बुधवार की सुबह भी कुछ टैकरों से धुआं निकल रहा था। दमकल कर्मियों का कहना है कि टंैकरों में भरे पदार्थ को पहले जलने दिया जाएगा, उसके बाद ही उसे बुझाने का काम किया जा सकता है। प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार आग की वजह से छह टैंकरों में धमाका हुआ था। आग लगने के समय फैक्टरी में 15 कर्मचारी काम कर रहे थे और सभी के सभी समय रहते बाहर आ गए थे और सभी सुरक्षित हैं। आग के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है, लेकिन यह अनुमान लगाया जा रहा है कि इस आग में करीब 120 करोड़ का नुकसान हुआ है। हर टैंकर में 3000 लीटर पदार्थ की क्षमता है और सभी टैंकर 30-70 प्रतिशत तक भरे हुए थे। राज्य के मंत्री गंटा श्रीनिवास राव मौके पर गए हैं। अधिकारियों का कहना है कि दमकल विभाग की सतर्कता की वजह से छह टैंकों का नुकसान होने से बचा लिया गया है। मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबु नायडु ने जिले के वरिष्ठ अधिकारियों से बात की है। इतना ही नहीं उन्होंने नौसेना के अधिकारियों से भी बात की है। नौसेना के क्षेत्र के कमांडर रवींद्र ने कहा कि हमने आठ दमकल की गाडिय़ों को भेजा है।